तेलंगाना

तेलंगाना राष्ट्र समिति का 21वां स्थापना दिवस कल, सीएम करेंगे 11 प्रस्तावों को पेश

Kunti Dhruw
26 April 2022 5:36 PM GMT
Telangana Rashtra Samithi
x

फाइल फोटो 

बड़ी खबर

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (Chief Minister K Chandrashekar Rao) बुधवार को तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के 21वें स्थापना दिवस के अवसर पर 11 प्रस्ताव को पेश करेंगे. राज्य के आईटी और उद्योग मंत्री केटी रामाराव (IT and Industries Minister KT Rama Rao) ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि 21वें स्थापना दिवस का जश्न हैदराबाद के नोवोटेल एचआईसीसी में (Novotel HICC) आयोजित किया जाएगा. सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक सेलिब्रेशन होना है. मंत्री केटी रामाराव के मुताबिक, स्थापना दिवस के मौके पर 3000 से अधिक सदस्यों को आमंत्रित किया गया है. इस बैठक के लिए मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, विधान पार्षदों, विभिन्न निगमों के अध्यक्षों, जिला परिषद अध्यक्षों, महापौरों, नगर अध्यक्षों तथा अन्य को आमंत्रित किया गया है.

केटीआर ने कहा, 'पार्टी कार्यकर्ताओं को आमंत्रित नहीं करने के लिए हम क्षमा चाहते हैं.' मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव कल टीआरएस के स्थापना दिवस पर विजन जारी करेंगे और 11 प्रस्तावों को पेश करेंगे. उन्होंने कहा, 'हम चर्चा करेंगे कि कोरोना की स्थिति से कैसे निपटा गया. विमुद्रीकरण और केंद्र की अक्षमता पर चर्चा की जाएगी. किसानों की समस्याओं और बेरोजगारी पर भी चर्चा की जाएगी. केटीआर ने सभी पंचायत प्रमुखों और जिला संभाग प्रमुखों से 12,900 ग्राम पंचायतों में पार्टी का झंडा फहराने और इसे उत्सव के रूप में मनाने को कहा है.
समारोह के दौरान पार्टी TRS सरकार की उपलब्धियों का प्रदर्शन करेगी
हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में दिन भर चलने वाले समारोह के दौरान पार्टी अपनी ताकत, तेलंगाना विकास मॉडल और पिछले सात वर्षों की टीआरएस सरकार की उपलब्धियों का प्रदर्शन करेगी. कार्यक्रम के मुताबिक, टीआरएस प्रमुख बुधवार को सुबह 10.30 बजे पार्टी का झंडा फहराकर समारोह की शुरुआत करेंगे. इसके बाद वह स्वागत भाषण देंगे और फिर 11 प्रस्ताव पेश करेंगे, जिनमें से एक देश तथा राज्य की राजनीतिक स्थिति पर होगा.
TRS के राष्ट्रीय एजेंडे की घोषणा कर सकते हैं CM
21वें स्थापना दिवस समारोह में राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी का रोडमैप बताए जाने की संभावना है. इस दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के साथ ही पार्टी के मुखिया एवं राज्य के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के अपने प्रयासों के बीच टीआरएस के राष्ट्रीय एजेंडे की घोषणा भी कर सकते हैं. इस अवसर पर 2023 के राज्य विधानसभा चुनाव के लिए चुनावी बिगुल बजने की उम्मीद है.
सत्ताधारी दल तेलंगाना में 2014 में सत्ता में आने के बाद से लगातार तीसरे कार्यकाल की भी उम्मीद कर रहा है. स्वतंत्र तेलंगाना राज्य के गठन की मांग के लिए 27 अप्रैल, 2001 को स्थापित टीआरएस ने दो जून 2014 को तत्कालीन आंध्र प्रदेश के विभाजन के साथ अपने उद्देश्य को प्राप्त किया था. प्रस्ताव पर चर्चा होगी और पूर्ण बैठक में इसे पारित किया जाएगा जिसमें सभी समुदायों के लिए कल्याणकारी कार्यक्रमों के आधार पर तेलंगाना के निरंतर विकास के वास्ते लोगों का समर्थन भी मांगा जाएगा.
वर्ष 2024 के आम चुनाव से पहले राष्ट्रीय राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने और भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के लिए मुख्यमंत्री की सक्रियता के चलते इस बैठक का काफी महत्व है. टीआरएस आगामी चुनावों के मद्देनजर पहले ही इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पैक) के साथ करार कर चुकी है. कभी आई-पैक के प्रमुख चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर हुआ करते थे. पार्टी अगले साल होने वाले चुनाव को ध्यान में रखते हुए अपने स्थापना दिवस पर घोषणाएं कर सकती है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta