तेलंगाना

तेलंगाना सीएम ने केंद्र सरकार को दी चेतावनी, बोले- 'दिल्ली में इंडिया गेट के सामने डंप करेंगे राज्य का सारा धान'

Kunti
30 Nov 2021 1:46 PM GMT
तेलंगाना सीएम ने केंद्र सरकार को दी चेतावनी, बोले- दिल्ली में इंडिया गेट के सामने डंप करेंगे राज्य का सारा धान
x
तेलंगाना में धान खरीद को लेकर टीआरएस और भारतीय जनता पार्टी के बीच वाकयुद्ध लगातार जारी है।

हैदराबाद: तेलंगाना में धान खरीद को लेकर टीआरएस और भारतीय जनता पार्टी के बीच वाकयुद्ध लगातार जारी है। इसी बीच मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं हुईं तो राज्य के पूरे धान को दिल्ली के इंडिया गेट पर डंप करेंगे। सीएम के चंद्रशेखर ने यह भी कहा है कि धान को भाजपा कार्यालय और हैदराबाद में केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी के घर के बाहर भी डंप किया जाएगा।

तेलंगाना सरकार की मांगे
तेलंगाना सरकार की मांगों में वर्तमान में खेतों में पड़े धान की तत्काल खरीद, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गीले धान (बारिश के कारण) की खरीद, बारिश के कारण अंकुरित धान के लिए किसानों को मुआवजा प्रदान करना और गर्मी की फसल को लेकर सरकार के रुख की घोषणा शामिल है।
1000 लॉरी किराए पर लेंगे
केसीआर ने कहा, 'सरकार 250 करोड़ रुपये खर्च करने, 1,000 लॉरी किराए पर लेने जा रही है। इन लॉरियो में धान को भरकर विरोध के रूप में डंप करने की तैयारी है।'
'बीजेपी का पर्दा करेंगे फाश'
तेलंगाना सीएम ने कहा कि केंद्र अभी भी राज्य को आश्वस्त 40 लाख मीट्रिक टन खरीदने के बारे में स्पष्ट नहीं है, केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी भ्रामक बयान दे रहे हैं कि केंद्र सभी धान को खरीदेगा। तेलंगाना सरकार भाजपा सरकार का पर्दाफाश करेगी। केसीआर ने चार घंटे की कैबिनेट बैठक के बाद संवाददाताओं से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने केंद्र और तेलंगाना के भाजपा मंत्री पर हमला बोला। उन्होंने खासकर बीजेपी नेता किशन रेड्डी पर हमला बोला।
'बिजली सुधारों के नाम पर एक और सख्त कानून'
सीएम ने कहा कि किसानों, आम लोगों और गरीबों के खातिर एनडीए सरकार को हटा देना चाहिए। उन्होंने कहा, 'मोदी सरकार (धान के मुद्दे पर) किराना दुकान के मालिक की तरह काम कर रही है।' उन्होंने कहा कि बिजली सुधारों के नाम पर, केंद्र एक और कठोर कानून, नया बिजली अधिनियम लाने जा रही है।
'एनडीए सरकार ने क्या हासिल किया?'
केसीआर ने पूछा, 'अगर कृषि कानून अच्छे थे, तो आपने उन्हें निरस्त क्यों किया और किसानों से माफी मांगी... अब आपकी विश्वसनीयता क्या है? कल केंद्र को तेलंगाना के किसानों से भी माफी मांगनी होगी।'
'बीजेपी का उद्देश्य सामाजिक ताना-बाना खत्म करना'
सीएम ने कहा, 'पिछले सात वर्षों में एनडीए सरकार ने 80 लाख करोड़ उधार लेने, गरीबी बढ़ाने और भारत को भूख सूचकांक में सबसे खराब देशों में से एक बनाने के अलावा क्या हासिल किया? उनकी नीति के कारण 750 किसानों ने आत्महत्या की। भाजपा की एकमात्र उपलब्धि देश के सामाजिक ताने-बाने को नष्ट करना है।'
'बीजेपी लोगों को धोखा दे रही'
केसीआर ने किशन रेड्डी पर हमला करते हुए कहा कि केंद्र ने खरीफ में धान की खरीद पर कोई रोक नहीं लगाई है। भाजपा लोगों को धोखा दे रही है...किशन रेड्डी को या तो खुली बहस के लिए आना चाहिए या लोगों को गुमराह करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it