तेलंगाना

तेलंगाना: सीएम KCR धान खरीदी को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ देंगे धरना

Gulabi
17 Nov 2021 10:28 AM GMT
तेलंगाना: सीएम KCR धान खरीदी को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ देंगे धरना
x
धरना के बाद TRS नेता इस मुद्दे पर राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन को अपना प्रतिवेदन देने के लिए राजभवन जाएंगे
तेलंगाना राष्ट्र समिति पार्टी (Telangana Rashtra Samithi) (TRS) राज्य से धान की खरीदी (procure paddy) से इनकार करने के फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहा है। धान की खरीद को लेकर तेलंगाना में TRS और BJP के बीच लंबे समय से वाकयुद्ध चल रहा है। वहीं अब तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (Chief Minister K Chandrashekhar Rao) ने केंद्र सरकार से धान की खरीद के साथ पारदर्शी और स्पष्ट होने और खरीद का लक्ष्य भी निर्धारित करने को कहा है।
सीएम केसीआर ने घोषणा की है कि टीआरएस सांसद, विधायक और एमएलसी 18 नवंबर को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच एक महाधरना का आयोजन करेंगे, जिसमें भाजपा से राज्य के किसानों से धान खरीदने का आग्रह किया जाएगा। धरना के बाद TRS नेता इस मुद्दे पर राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन को अपना प्रतिवेदन देने के लिए राजभवन जाएंगे।
एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम केसीआर ने कहा कि केंद्रीय मंत्री को तीन बार फोन किया, लेकिन उचित जवाब नहीं मिला। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार राज्य से धान खरीदने में दोहरा रवैया अपना रही है। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र प्रत्येक राज्य के साथ अलग-अलग तरीकों से निपट रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा, "मैं धान खरीद पर कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखूंगा। हमारी लड़ाई नहीं रुकेगी, हमारा संघर्ष जारी रहेगा और हम अंत तक लड़ेंगे।"
सूर्यापेट में टीआरएस ने बीजेपी पर साधा निशाना
इससे पहले तेलंगाना के सूर्यापेट जिले में टीआरएस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच जमकर पत्थर और चप्पल चले थे। इसके अलावा TRS के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री के टी रामाराव ने कहा था कि राज्य सरकार केंद्र को दक्षिणी राज्य में उगाई गई धान की फसल खरीदने के लिए मजबूर करेगी। राव ने आरोप लगाया था कि केंद्र सरकार किसानों को भ्रमित करती है और उन्हें धान की खेती नहीं करने के लिए कहती है। तेलंगाना के मंत्री ने कहा है कि टीआरएस हमेशा किसानों के साथ रहेगी।
केंद्र के खिलाफ हमला करते हुए राव ने कहा था कि अगर राज्य सरकार धान खरीदती है तो इसे एफसीआई की ओर निर्देशित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि धान खरीदी केंद्र की जिम्मेदारी है। तेलंगाना के मंत्री ने केंद्र के राज्य से धान खरीदने से इनकार करने पर राष्ट्रीय राजधानी जाने की भी धमकी दी है। दूसरी ओर, बीजेपी ने तेलंगाना के सीएम से केंद्र सरकार द्वारा लिखे गए पत्र को जारी करने के लिए कहा है, जिसमें पहले ही उल्लेख किया गया है कि वे राज्य से फसल खरीदेंगे।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it