तेलंगाना

सुरंग बनाने का कार्य के दौरान हुआ बड़ा हादसा, पलायन की भेंट चढ़ने का सिलसिला नहीं थम रहा

Nidhi Markaam
25 May 2022 11:20 AM GMT
सुरंग बनाने का कार्य के दौरान हुआ बड़ा हादसा, पलायन की भेंट चढ़ने का सिलसिला नहीं थम रहा
x
गोमिया प्रखंड के सुदुरवर्ती व उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में रोजगार का अभाव होने के बीच पलायन और फिर पलायन की भेंट चढ़ने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा

गोमिया प्रखंड के सुदुरवर्ती व उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में रोजगार का अभाव होने के बीच पलायन और फिर पलायन की भेंट चढ़ने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा। मजबूरी में मौत की सूची में इस बार पचमो के केतर महतो के पुत्र योगेंद्र महतो (25 वर्ष) नाम जुड़ गया। तेलंगाना के सिरसा में उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि वह बीते 16 मई को ही काम करने गया हुआ था। वह किसी सरला प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कार्यरत होकर सुरंग बनाने का कार्य में लगा हुआ था। तभी चाल धंस गई जिमसें दबने से उसकी दर्दनाक मौत हो गयी।

मृतक के दो छोटे-छोटे बच्चे पुत्र सुशांत (3 वर्ष) और पुत्री समृद्धि (1 वर्ष) हैं। घर का बड़ा होने के कारण योगेंद्र पर पूरे परिवार की जिम्मेवारी थी। हालांकि पिता गांव में मजदूरी जरूर करते हैं परंतु इससे परिवार का भरन-पोषण ठीक से नहीं हो पा रहा था। इसलिए योगेंद्र बाहर काम करने के लिए चला गया था।
मालूम हो कि गोमिया में रोजगार सृजन करने की दिशा में घोषणाएं कम नहीं हुई परंतु अधिकांश घोषणाएं हवा में ही रह गईं। पता नहीं यहां के जनप्रतिनिधि व प्रशासन इस गंभीर मसले को कब गंभीरता से लेते हैं। पलायन की भेंट ग्रामीण ही चढ़ ही रहे हैं।
Next Story