तेलंगाना

स्कूल में फिर मिला 27 छात्र कोरोना संक्रमित, अब इतना हुआ आंकड़ा

Kunti
2 Dec 2021 5:06 PM GMT
स्कूल में फिर मिला 27 छात्र कोरोना संक्रमित, अब इतना हुआ आंकड़ा
x
कोरोना की स्थिति में सुधार होते ही सभी राज्यों में स्कूलों को भी लगभग खोल दिया गया है।

कोरोना की स्थिति में सुधार होते ही सभी राज्यों में स्कूलों को भी लगभग खोल दिया गया है। लेकिन इस बीच कोरोना तेजी से अपने पैर पसार रहा है। अब खबर सामने आई है कि तेलंगाना के संगा रेड्डी जिले के महात्मा ज्योतिबा फुले स्कूल के 27 और विद्यार्थी कोरोना संक्रमित मिले हैं। इससे पहले सोमवार को इसी स्कूल की 43 छात्राएं कोरोना संक्रमित पाई गईं थी। रिपोर्ट सामने आते ही जिले में हड़कंप मच गया है। डीएम डॉ. गायत्री का कहना है सभी विद्यार्थियों के कोरोना संक्रमित होने की सूचना सामने आते ही सभी को आइसोलेशन में रखा गया है, जहां उनका उपचार किया जा रहा है।

गोवा में सात बच्चे संक्रमित
गोवा के जुवेनाइल डिटेंशन सेंटर में भी सोमवार को सात बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। उत्तरी गोवा के जिला कलेक्टर अजीत रॉय ने बताया कि सभी बच्चों को आइसोलेशन में भेज दिया गया और विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनकी देखभाल कर रही है। उन्होंने बताया कि किसी भी बच्चे में गंभीर लक्षण नहीं हैं।
महाराष्ट्र के भिवंडी में भी 62 बुजुर्ग हुए संक्रमित
तेलंगाना, गोवा के अलावा महाराष्ट्र के भिवंडी में भी सोमवार को 62 बुजुर्गों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। चिंता की बात यह है कि जिन बुजुर्गों को कोरोना संक्रमण हुआ है, उसमें सभी पूरी तरह कोरोना टीकाकरण करवा चुके थे। इसके अलवा उसी वृद्धाश्रम के पांच कर्मचारी और उनके परिवार के दो लोगों में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।
ओमिक्रॉन वैरिएंट को लेकर भारत सरकार ने जारी किए दिशानिर्देश
कोरोना के ओमिक्रॉन स्वरूप से जंग के लिए भारत सरकार ने चौकसी बढ़ा दी है। विदेश से आने वाले यात्रियों को एक दिसंबर से यात्रा शुरू करने के पहले एयर सुविधा पोर्टल पर निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट अपलोड करनी होगी। पिछले 14 दिन का यात्रा विवरण भी बताना होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार देर शाम ये दिशा-निर्देश जारी किए।
अब खतरे वाले देशों से आने वालों की भारत आते ही कोरोना जांच होगी। रिपोर्ट आने तक उन्हें एयरपोर्ट पर ही रोका जाएगा। रिपोर्ट निगेटिव आती है तो उन्हें सात दिन घर पर या जहां भी ठहरे हों, वहां क्वारंटीन रहना होगा। आठवें दिन दोबारा जांच होगी। इसमें भी रिपोर्ट निगेटिव आई तो अगले सात दिन खुद पर निगरानी रखनी होगी।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it