राजस्थान

गांव वालों ने घूस देने के लिए 3 लाख रुपये चंदे से जुटाई, SDM और तहसीलदार नामजद, 1 अधिकारी गिरफ्तार

Kunti Dhruw
17 March 2022 1:39 PM GMT
गांव वालों ने घूस देने के लिए 3 लाख रुपये चंदे से जुटाई, SDM और तहसीलदार नामजद, 1 अधिकारी गिरफ्तार
x
राजस्थान के एक गांव में लोगों ने एक अधिकारी को घूस देने के लिए 3 लाख रुपये चंदे के जरिये इकट्ठा किए।

राजस्थान के एक गांव में लोगों ने एक अधिकारी को घूस देने के लिए 3 लाख रुपये चंदे के जरिये इकट्ठा किए। बताया जा रहा है कि गांव के ही मंदिर की जमीन का विवाद हल करने के लिए 3 लाख की रुपये घूस मांगी गई थी। इस मामले में सहायक प्रशासनिक अधिकारी को घूस की रकम के साथ गिरफ्तार किया गया है। यह मामला चित्तौड़गढ़ जिले में बेंगू तहसील के हरिपुरा गांव का है। चित्तौड़गढ़ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया है।

रिश्वत कांड में SDM का नाम!
एसीबी के एएसपी विक्रम सिंह ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद जब एसडीएम ऑफिस में छापा मारा गया तो सहायक प्रशासनिक अधिकारी मोहम्मद असलम कुरैशी की अलमारी से तीन लाख रुपये मिले। पहले तो रकम के बारे में सहायक प्रशासनिक अधिकारी ने सही जवाब नहीं दिया। सख्ती करने पर उन्होंने एसडीएम मुकेश मीणा का नाम लिया। जब एसडीएम मुकेश मीणा से इस बारे में जानकारी मांगी गई तो वो भी संतोषप्रद जवाब नहीं दे सके।
मंदिर की जमीन का था मामला
बेगूं के हरिपुरा गांव में एक चारभुजा नाथ जी का मंदिर है। मंदिर की जमीन विवादित है। गांव के लोग विवादित जमीन का निस्तारण करने के लिए प्रयासरत हैं। जमीन विवाद हल करने के लिए एसडीएम मुकेश मीणा ने तीन लाख रुपए की घूस मांगी।
ऐसे जुटाया चंदा
गांव में मंदिर की जमीन का स्थायी हल करने के लिए पंचों ने बैठक बुलाई। बैठक में तय किया गया कि गांव के लोग तीन लाख रुपये एकत्र करेंगे और एसडीएम को देंगे। गांव वालों ने रकम एकत्र कर राशि एसडीएम को देने के साथ ही एसीबी में भी शिकायत कर दी। जिसके बाद एसीबी ने बुधवार को दोपहर बाद छापा मारा। दस्तावेजों की जांच के बाद इस मामले का खुलासा किया गया।
एसडीएम की घर भी मिली फाइलें
एसीबी टीम ने एसडीएम मुकेश मीणा की घर की तलाशी ली है। बताया जा रहा है कि उनके घर में रेवेन्यू से संबंधित 31 फाइलें, गाड़ी, 14 तोला सोना, घर में 2000 रुपए व पर्स में 18490 रुपए मिले हैं।
तहसीलदार पर भी संदेह
एसीबी ने बताया कि इस मामले में तहसीलदार रामधन गुर्जर की भूमिका भी संदेह के घेरे में है। एसीबी ने सहायक प्रशासनिक अिधकारी असलम कुरैशी को गिरफ्तार कर लिया है। एसडीएम मुकेश मीणा और तहसीलदार रामधन गुर्जर को नामजद किया गया है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta