राजस्थान

यूडीएच मंत्री से मिलकर कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा: कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह

Shantanu Roy
29 Nov 2021 8:43 AM GMT
यूडीएच मंत्री से मिलकर कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा: कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह
x
बीवीजी कंपनी के आए दिन की हड़ताल और शहर की बिगड़ी सफाई व्यवस्था पर कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने नाराजगी जताई है. उन्होंने यूडीएच मंत्री से मिलकर कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाए जाने

जनता से रिश्ता। बीवीजी कंपनी के आए दिन की हड़ताल और शहर की बिगड़ी सफाई व्यवस्था पर कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने नाराजगी जताई है. उन्होंने यूडीएच मंत्री से मिलकर कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाए जाने और छोटे-छोटे नए टेंडर करने की बात कही.2017 में नगर निगम प्रशासन ने शहर में सफाई व्यवस्था बेहतर हो इसकी जिम्मेदारी बीवीजी कंपनी को सौंपी. लेकिन 2018 से ही कभी बीवीजी कंपनी, कभी कंपनी से जुड़े हुए वेंडर और कभी कंपनी के सफाई कर्मचारियों ने भुगतान और वेतन विसंगति को लेकर हड़ताल करना शुरू कर दिया. ये क्रम अब तक जारी है. इसका खामियाजा हर बार शहर की आम जनता को भुगतना पड़ता है.

हाल ही में बीवीजी कंपनी ने 2 महीने का बकाया 18 करोड़ भुगतान नहीं किए जाने पर हड़ताल की थी. निगम से मिले आश्वासन के बाद हड़ताल तो खत्म हो गई लेकिन अब तक शहर की स्थिति सुधर नहीं पाई है. आलम ये है कि आज भी महज 30 फीसदी हूपर ही चले. इस पर कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने भी नाराजगी जताते हुए कहा कि बीवीजी कंपनी सरकार की योजनाओं पर पलीता लगा रही हैं.
खाचरियावास ने कहा कि शहर में सफाई व्यवस्था संभालने में कंपनी पूरी तरह विफल साबित हो रही है. कंपनी की मनमानी जनता को भारी पड़ सकती है. उन्होंने कहा कि कंपनी को हड़ताल पर जाने का कोई राइट ही नहीं है. कंपनी पर करप्शन के चार्ज लगे हुए हैं, उनके अधिकारी जेल चले गए और अब यूडीएच मंत्री से वार्ता कर कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाया जाने की अपील करेंगे. पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार ने एक कंपनी को टेंडर दिया, उसने सबलेट कर दिया. नए टेंडर में छोटे-छोटे भागों में बांट कर डिसेंट्रलाइज किया जाएगा ताकि बेहतर काम हो सके.

बता दें कि बीवीजी कंपनी का सिस्टम फेल होने पर पहले ही 400 से ज्यादा नोटिस दिए जा चुके हैं. वर्तमान में दोनों नगर निगमों में 1500 से ज्यादा शिकायतें पेंडिंग है. आलम ये है कि कई क्षेत्रों में कचरे की गाड़ी भी नियमित नहीं पहुंच रही. ऐसे में अब कैबिनेट मंत्री ने कंपनी को बाहर का रास्ता दिखाने की अपील की है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta