राजस्थान

असम राइफल पर आतंकी हमला: जितेंद्र सिंह बोले- हमले की जिम्मेदारी सरकार की, इंटेलिजेंस पूरी तरह फेल

Sonali
14 Nov 2021 8:54 AM GMT
असम राइफल पर आतंकी हमला: जितेंद्र सिंह बोले- हमले की जिम्मेदारी सरकार की, इंटेलिजेंस पूरी तरह फेल
x
हाल ही में असम राइफल पर हुए आतंकी हमले की घटना को पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जितेंद्र सिंह ने दुखद बताते हुए कहा कि इसकी जिम्मेदारी इंटेलिजेंस व सरकार की है. देश में केवल भाषण दिए जा रहे हैं.

जनता से रिश्ता। हाल ही में असम राइफल पर हुए आतंकी हमले की घटना को पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जितेंद्र सिंह ने दुखद बताते हुए कहा कि इसकी जिम्मेदारी इंटेलिजेंस व सरकार की है. देश में केवल भाषण दिए जा रहे हैं. सुरक्षा पर कोई काम नहीं हो रहा है. इंटेलिजेंस पूरी तरह से फेल हो चुकी है. जितेंद्र सिंह ने ये बात पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन पर उनकी प्रतिमा पर माला व पुष्प अर्पित करने के बाद मीडिया से बातचीत में कही.

रविवार सुबह जितेंद्र सिंह ने कंपनी बाग में नेहरू की प्रतिमा पर माला व पुष्प चढ़ाए और बच्चों के साथ केक काटा. इस मौके पर बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता विधायक सभापति मौजूद रहे. हाल ही मणिपुर में असम राइफल पर हुए आतंकी हमले पर जितेंद्र सिंह ने दुख जाहिर करते हुए इस हमले को दुखद बताया. उन्होंने कहा कि देश के हालात खराब हैं. केवल भाषण दिए जा रहे हैं. लेकिन सुरक्षा पर कोई काम नहीं हो रहा है. इस घटना की पूरी तरह से जिम्मेदार सरकार है. देश की इंटेलिजेंस व्यवस्था फेल हो चुकी है. पूर्व मंत्री ने कहा कि देश की आंतरिक सुरक्षा पूरी तरह से कमजोर हो चुकी है.
जमीनी स्तर पर कोई काम नहीं हो रहा है. चीन लगातार भारत की जमीन पर कब्जा कर रहा है. भारत के सभी पड़ोसी राज्यों से संबंध खराब हो चुके हैं. फिर चाहे बांग्लादेश हो, नेपाल हो, म्यांमार हो या अन्य पड़ोसी राज्य. लेकिन सरकार का इस तरफ कोई ध्यान नहीं है. अभी समय है सरकार को ध्यान देना चाहिए हालात खराब हो रहे हैं.उन्होंने कहा कि देश में होने वाले विकास कार्य, रक्षा कार्य या आज देश में जो भी काम हो रहा है. इनकी शुरुआत नेहरू के समय की गई थी. भारत आजादी से पहले गरीब देशों में शामिल था. लेकिन आज हम आत्मनिर्भर हैं व महाशक्ति बन चुके हैं. इसका श्रेय भी नेहरू को जाता है. उन्होंने कहा कि उनके संस्कार हमें बच्चों को देने चाहिए. देश की आजादी के बारे में उनको बताना चाहिए़. जिससे बच्चों व युवाओं में अच्छे संस्कार आ सके. देश भक्ति के बारे में उनको जानकारी मिल सके. उन्होंने कहा कि उनकी बराबरी किसी से नहीं की जा सकती है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it