राजस्थान

सेक्स रैकेट के गिरोह का पर्दाफाश, वीआईपी नाम से बनाया था WhatsApp ग्रुप

Janta Se Rishta Admin
18 Oct 2021 4:35 PM GMT
सेक्स रैकेट के गिरोह का पर्दाफाश, वीआईपी नाम से बनाया था WhatsApp ग्रुप
x
कॉलगर्ल के साथ मारपीट होने पर हुआ खुलासा

जयपुर. राजधानी जयपुर में कॉलगर्ल को लेकर मारपीट का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में सेक्स रैकेट के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने वीआईपी एस्कॉर्ट सर्विस नाम से WhatsApp ग्रुप बना रखा था जिसके जरिए कॉलगर्ल सप्लाई की जाती थी. लेकिन जिसे पंसद किया उसकी सप्लाई नहीं होने पर विवाद मारपीट तक पहुंच गया. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 9 अक्टूबर की रात को तीन युवक आमेर थाना इलाके के एक होटल में कॉलगर्ल की सप्लाई करने के लिए आए थे. जहां पर पंसद की गई लड़की के बजाय दूसरी लड़की को भेजने की बात को लेकर ग्राहक के साथ कहासुनी हो गई. आरोपियों ने ग्राहक पर लोहे के पाइप से हमला कर दिया. पुलिस ने कैलाश डूडी, मुकेश चौधरी और राकेश मीणा को गिरफ्तार किया है.

वीआईपी एस्कॉर्ट सर्विस नाम से बनाया था WhatsApp ग्रुप

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों ने झोटवाडा इलाके में एक गिरोह बना रखा है जो गूगल पर लड़कियों का एड देकर सेक्स रैकेट के लिए लड़कियों की सप्लाई करता था. आरोपियों ने वीआईपी एस्कॉर्ट सर्विस नाम से WhatsApp ग्रुप भी बना रखा था. आरोपी ग्रुप पर किसी ग्राहक द्वारा लड़की की डिमांड करने पर रेट तय करके लड़कियों की सप्लाई किया करते थे. 9 अक्टूबर की रात को भी आरोपी कैलाश डूडी ने डिमांड आने पर लड़की की बुकिंग कर दी और अपने साथियों के साथ लड़की की सप्लाई करने के लिए होटल जा पहुंचा. जहां पर पंसद की गई लड़की की बजाय दूसरी लड़की भेजने को लेकर विवाद हो गया. इस मामले में एक परिवादी ने आमेर थाने में यह शिकायत दी थी कि मेरा भाई आमेर की एक होटल में अपने दोस्तों के साथ रुके हुआ था, जहां पर अज्ञात लोगों ने उस पर हमला करके घायल कर दिया. पुलिस ने मामले की जांच की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ. इस मामले में पुलिस ने युवती के खिलाफ भी नोटिस जारी किया है.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it