राजस्थान

राजस्थान: अलवर रिश्वत मामले में न्यायालय ने पूर्व जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया सहित 3 लोगों को भेजा जेल

Gulabi Jagat
13 July 2022 10:30 AM GMT
राजस्थान: अलवर रिश्वत मामले में न्यायालय ने पूर्व जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया सहित 3 लोगों को भेजा जेल
x
राजस्थान न्यूज
अलवर. एसीबी की टीम ने अलवर जिला कलेक्टर रहे नन्नू मल पहाड़िया, सेटलमेंट ऑफिसर कम राजस्व अपीलीय प्राधिकारी अशोक सांखला ओर उनके दलाल नितिन शर्मा को रविवार को न्यायाधीश के घर पेश किया. तीनों आरोपियों को 14 दिन की जुडिशल कस्टडी में भेज दिया गया (IAS Nannumal Pahadia, RAS Ashok Sankhla and broker sent to judicial custody) है. दोनों अधिकारियों के घर से एसीबी की टीम को महंगी शराब की बोतलें मिली हैं व जमीनों के एग्रीमेंट रजिस्ट्री सहित दस्तावेज मिले हैं.
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अलवर की टीम ने पूर्व जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया, सैटलमेंट ऑफिसर कम राजस्व अपीलीय प्राधिकारी अशोक सांखला और उनके दलाल नितिन शर्मा को पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था. एसीबी की टीम को अभी तक की जांच पड़ताल के दौरान कई अहम जानकारियां मिली हैं. एसीबी को बड़ी संख्या में प्लॉट फ्लैट व जमीन के पेपर मिले हैं. इनकी जांच भी शुरू हो चुकी है. एसीबी की टीम ने तीनों आरोपियों को अलवर के गैलेक्सी अपार्टमेंट स्थित न्यायाधीश के आवास पर पेश किया जिसके बाद एसीबी विशेष न्यायालय के न्यायाधीश ने तीनों आरोपियों को 14 दिन की जुडिशल कस्टडी में जेल भेज दिया है.
पूर्व जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया सहित तीनों लोगों को न्यायालय ने भेजा जेल
एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय सिंह ने बताया कि अलवर से जयपुर स्थित आवास की जांच के दौरान कई दस्तावेज व सामान मिला है. उसकी जांच चल रही है. इनके बैंक खाते भी चेक किए जा रहे हैं. पूर्व जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया कई लोगों से रिश्वत लेता था. इनके फोन रिकॉर्ड के अनुसार अन्य लोगों से भी पूछताछ की जाएगी. आरएएस अधिकारी नन्नू मल पहाड़िया के लिए लंबे समय से काम कर रहा था. उन्होंने कहा कि पुलिस रिमांड की आवश्यकता नहीं है. जल्द ही एसीबी की तरफ से जांच अधिकारी नियुक्त किया जाएगा.
महंगी शराब की बोतलों को पुलिस ने किया जब्त: एसीबी के अधिकारियों ने कहा कि महंगी शराब की बोतलों को पुलिस और आबकारी विभाग के अधिकारियों ने जब्त कर लिया है. एक अधिकारी के घर से 18 तो दूसरे के घर से 17 शराब की बोतलें मिली हैं. एक बोतल की कीमत 50 से 60 हजार रुपए है. उनकी जांच चल रही है. कुल जब्त शराब की कीमत लाखों में है. इसलिए इस मामले में अलग से एफआईआर दर्ज की जाएगी. सूत्रों की माने तो नन्नू मल पहाड़िया शराब पीकर नशे में लोगों को धमकी देते थे और रिश्वत की मांग करते थे
अशोक सांखला ने कहा ससुराल से मिली प्रॉपर्टी: एसीबी की गिरफ्त में आरएएस अधिकारी अशोक सांखला के घर से कई प्रॉपर्टी के दस्तावेज मिले हैं. इस पर उन्होंने कहा कि उनका ससुराल अलवर के गोविंदगढ़ में है. उनके ससुराल से उनको प्रॉपर्टी मिली है. इसकी जानकारी उन्होंने एसीबी के अधिकारियों को दी है. एसीबी के अधिकारियों ने कहा कि दलाल की अहम भूमिका थी. रिश्वत के पैसे लेने के बाद दलाल के माध्यम से उन पैसों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जाता था. इस काम के लिए दलाल को उसका हिस्सा भी दिया जाता था.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta