राजस्थान

पुलिस टीम ने 48 घंटे में किया रावण गैंग का राजफाश

Admin Delhi 1
8 Nov 2022 10:43 AM GMT
पुलिस टीम ने 48 घंटे में किया रावण गैंग का राजफाश
x

भीलवाड़ा न्यूज़: शहर में शनिवार सुबह एक के बाद एक कर हुई लूट की 6 वारदातों का पुलिस ने सोमवार को खुलासा कर दिया है। आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में एक से पांच नवंबर तक लूट की कुल 10 वारदातें करना कबूला है। इस मामले में पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक नाबालिग को डिटेन किया है। सबसे बड़ी बात यह है कि इन युवकों की उम्र 20 साल से ज्यादा नहीं है और इनमें से दो युवकों पर 5-5 आपराधिक मामले भी दर्ज हो हैं। यहीं नहीं आरोपियों ने अपनी गैंग का नाम 'रावण गैंग' रखा हुआ था। सोमवार को एएसपी (मुख्यालय) ज्येष्ठा मैत्रेयी ने प्रेस वार्ता में इन वारदातों का खुलासा किया। एएसपी मैत्रेयी ने बताया कि माताजी का खेड़ा सुवाणा निवासी राकेश पुत्र नारायण बलाई (19), बड़ा मंदिर सुवाणा निवासी सुनिल पुत्र सुरेश कुमार धोबी (20) व दादाबाड़ी निवासी गोलु पुत्र सत्यनाराण कोली (18) को शनिवार को हुई एक साथ 6 लूट की वारदातों के मामले में बापर्दा गिरफ्तार किया है। जबकि इनके साथ ही पुलिस ने एक नाबालिग को भी निरुद्ध किया है। उन्होंने बताया कि वारदात में 5 जने शामिल थे। इसमें से अभी सुवाणा निवासी गोपाल पुत्र भंवर धोबी (20) की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस ने इनके पास से वारदात के काम ली गई दो बाइक व कुछ नकदी भी बरामद की है। अभी इनसे शहर में हुई अन्य वारदातों के बारे में भी पूछताछ की जा रही है। प्रारंभिक पूछताछ में अब तक आरोपियों ने 1 से 5 नवम्बर के बीच 10 वारदातें करना कबूल किया है। इनमें 1 नवंबर को गायत्री आश्रम के पास राहगीर पर हमला कर 30 हजार लूट लिए। 3 नवंबर को महाप्रज्ञ सर्किल पर डेयरी बूथ संचालक से 21 हजार लूट लिए। इसी दिन ऋषि वाटिका आजाद नगर डेयरी बूथ संचालक से 11 हजार लूट लिए। 4 नवंबर को सुखाड़िया सर्किल के पास आॅटो चालक से मारपीट कर 10 हजार लूट लिए और 5 नवंबर को एक के बाद एक कर 6 लूट की वारदात करना शामिल है। पुलिस आरोपियों से गहन पूछताछ कर जांच पड़ताल कर रही है।

शराब के नशे में लोगों को बुरी तरह पीटा: पुलिस की पूछताछ में गिरफ्तार हुए तीनों युवकों ने बताया कि शनिवार की सुबह से पहले उन्होंने काफी शराब पी थी। जिसके बाद उन्होंने रास्ते में जो मिला उसे लूटा। और सरियों ने बेरहमी से मारपीट की।

पुलिस की गश्त हटते ही लूटपाट को दिया अंजाम: पुलिस ने बताया कि इन युवकों ने अपने नशे की आदत को पूरा करने के लिए अपराध का रास्ता पकड़ रखा था। इसी चलते यह पहले भी कई वारदात कर चुके है। इन्हें पता था कि सुबह 5 बजे पुलिस के गश्त की ड्यूटी बदलती है। इसी का यह लोग फायदा उठाते थे और अपनी हर घटना को सुबह के समय ही करते थे।

दो के खिलाफ पहले ही दर्ज है 5-5 नकबजनी के मामले: पुलिस ने बताया कि पकड़ में आए राकेश बलाई के खिलाफ पहले सुभाष नगर, मांडलगढ़, बिगोद व सदर थाने में एक-एक आपराधिक मामला दर्ज है। वहीं सुनील धोबी के खिलाफ गंगरार, सुभाष नगर, मंगरोप, कोटडी व मांडलगढ़ थाने में एक - एक मामला दर्ज है।

अपने मौज-शौक और नशे की लत पूरी करने लोगों का बहा रहे थे खून: लूट गैंग में शामिल अपराधी, अपने मौज-शौक की पूर्ति, नशे की लत पूरी करने व आसान तरीके से पैसा कमाने के लिए वारदातों को अंजाम दे रहे थे। ये बदमाश, रात में सुनसान इलाकों में अकेल मिलने वाले लोगों पर हमला कर न केवल उनका खून बहा रहे थे, बल्कि नकदी, मोबाइल आदि भी लूटकर ले जा रहे थे। खास बात यह है कि ये बदमाश वारदातों को अंजाम देकर सुबह दिन निकलने से पहले अपने ठिकानों पर पहुंच जाते थे। यहीं नहीं इन युवकों ने प्रतापनगर थाना क्षेत्र की एक कॉलोनी में कमरा किराये ले रखा है, इन्हें वहीं से गिरफ्तार किया है।

48 घंटे में 45 जनों की टीम ने किया खुलासा, देंगे रिवार्ड: एएसपी ज्येष्ठा मेत्रैयी ने बताया कि शनिवार को एक साथ 6 लूट की वारदात होने के बाद पुलिस के लिए एक बड़ा चैलेंज बन गया था। इसका खुलासा करने के लिए 45 पुलिस कर्मियों की टीम बनाई गई। जिन्होंने 48 घंटे में इन आरोपियों को पकड़ लिया। इस वारदात के खुलासे में सबसे बड़ा योगदान प्रताप नगर पुलिस का रहा। एएसपी ने बताया कि टीम में डीएएसपी (सदर) रामचन्द्र चौधरी, डीएसपी (शहर) नरेन्द्र दायमा के साथ ही प्रताप नगर थाना प्रभारी राजेन्द्र गोदारा, नन्द लाल रिणवा थानाधिकारी सुभाषनगर,कोतवाल मुकेश वर्मा, एसआई बलवीर खान,मोतीराम, एएसआई उदयलाल, दीवान सुनिल कुमार,अशोक कुमार, सती्रश , धीरज,रामनिवास, रविन्द्र, महावीर, असलम, सुरेश कुमार,महेन्द्र कुमार, विनोद कुमार, रतनलाल , नरेश सचदेव , बलवीर्र शिवराज, हीरा लाल,भूपेन्द्र , शंभू, अमृत डी.एस.टी से एसआई जगदीश चन्द,नाथू सिंह, करण सिंह,पवन, सोनू, दिलीप, विजय, रिषीकेश, प्रताप, राधेश्याम, आशीष कुमार मिश्रा सउनि, दीपक जागींड सत्यनारायण , चन्द्रपाल सिंह, कमलश पिन्टू छोटू लाल व प्रदीप को शामिल किया गया था। एसपी ने बताया कि टीम में शामिल सभी पुलिसकर्मियों को रिवार्ड दिया जाएगा।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta