राजस्थान

त्योहारी सीजन पर चिकित्सा विभाग ने लिए 105 सैंपल, 2 हजार किलो मिलावटी मावा किया नष्ट

Sonali
5 Nov 2021 11:01 AM GMT
त्योहारी सीजन पर चिकित्सा विभाग ने लिए 105 सैंपल, 2 हजार किलो मिलावटी मावा किया नष्ट
x
योहारी सीजन पर चिकित्सा विभाग की ओर से मिलावट की रोकथाम (Prevention Of Adulteration) के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया गया. जयपुर जिले में 15 दिनों में इस अभियान को तेज किया गया

जनता से रिश्ता। योहारी सीजन पर चिकित्सा विभाग की ओर से मिलावट की रोकथाम (Prevention Of Adulteration) के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया गया. जयपुर जिले में 15 दिनों में इस अभियान को तेज किया गया और इस दौरान चिकित्सा विभाग ने बड़ी मात्रा में सैंपल उठाए और बड़ी मात्रा में मिलावटी घी तेल और मावा (Ghee Oil And Mawa) नष्ट किया है.

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (Chief Medical and Health Officer) डॉक्टर नरोत्तम शर्मा का कहना है कि त्योहारी सीजन पर चिकित्सा विभाग की ओर से शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया जाता है. जहां मिलावट की रोकथाम को लेकर खाद्य पदार्थों के सैंपल (Food Samples) उठाए जाते हैं. बीते 15 दिनों में अभियान में तेजी लाई गई है.
2 से 3 हजार लीटर मिलावटी घी और तेल नष्ट
डॉक्टर नरोत्तम शर्मा के अनुसार बीते 15 दिनों में चिकित्सा विभाग ने तकरीबन 105 सैंपल उठाए गए हैं. जिन्हें जांच के लिए सेंट्रल लैब (Central Lab) में भेजा गया है. इसके अलावा चिकित्सा विभाग की टीम ने तकरीबन 2 से 3 हजार लीटर मिलावटी घी और तेल नष्ट किया है.
कुछ सैंपल जांच के लिए सेंट्रल लैब भेजे गए
दीपावली के त्यौहार पर आमतौर पर मावे से बनी मिठाइयों में मिलावट की आशंका सबसे अधिक बनी रहती है. ऐसे में अकेले जयपुर में चिकित्सा विभाग की टीम ने तकरीबन 2000 किलो मिलावटी मावा नष्ट करवाया गया. डॉक्टर नरोत्तम शर्मा का यह भी कहना है कि कुछ सैंपल जांच के लिए सेंट्रल लैब में भेजे गए हैं और जैसे ही उनकी रिपोर्ट प्राप्त होती है. यदि सैंपल में मिलावट पाई जाती है तो मिलावटखोरों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it