राजस्थान

नाबालिग छात्रा ने दिया बालिका को जन्म, कोई यह बताने को तैयार नहीं क्या घटनाक्रम हुआ

Sonali
5 Nov 2021 11:12 AM GMT
नाबालिग छात्रा ने दिया बालिका को जन्म, कोई यह बताने को तैयार नहीं क्या घटनाक्रम हुआ
x
उम्मेद अस्पताल (Umaid Hospital Jodhpur) में गुरुवार को भर्ती हुई गर्भवती छात्रा ने शुक्रवार को बालिका को जन्म दिया है. अस्पताल के डॉक्टर दोनो के स्वास्थ्य की देखरेख में लगे है.

जनतासे रिश्ता। उम्मेद अस्पताल (Umaid Hospital Jodhpur) में गुरुवार को भर्ती हुई गर्भवती छात्रा ने शुक्रवार को बालिका को जन्म दिया है. अस्पताल के डॉक्टर दोनो के स्वास्थ्य की देखरेख में लगे है.जिला बाल कल्याण समिति भी इनका विशेष ध्यान रख रही है. बाल कल्याण समिति की महिला सदस्य ने छात्रा और उसकी मां से मिलकर जानकारी हासिल करने के प्रयास किए लेकिन अभी तक किसी ने यह नहीं बताया कि वह गर्भवती कैसे हो गई. इसके लिए कौन जिम्मेदार है. अस्पताल की सूचना पर खेड़ापा थाना पुलिस भी प्रयास कर रही है कि बालिका के साथ कोई ज्यादती हुई है तो उसके विरुद्ध कार्रवाई की जा सके. लेकिन अभी तक पुलिस को भी कोई सफलता हासिल नहीं हुई है. पूरे परिवार ने इस मामले में चुप्पी साध ली है.

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष डॉ. धनपत गुर्जर ने बताया कि परिजन किसी भी तरह की जानकारी देने के लिए तैयार नहीं है. फिलहाल हमने डॉक्टरों से नवजात और छात्रा का ध्यान रखने का कहा है. काउंसलिंग के माध्यम से धीरे-धीरे घटनाक्रम जानने का प्रयास करेंगे.
नाबालिग छात्रा ने दिया बालिका को जन्म, कोई यह बताने को तैयार नहीं क्या घटनाक्रम हुआ
जोधपुर के उम्मेद अस्पताल में नाबालिग छात्रा ने लड़की को जन्म दिया है. बाल कल्याण समिति की महिला सदस्य ने छात्रा और परिवार से जानकारी लेनी चाही लेकिन परिवार इस पूरे मामले में चुप है.
जोधपुर. उम्मेद अस्पताल (Umaid Hospital Jodhpur) में गुरुवार को भर्ती हुई गर्भवती छात्रा ने शुक्रवार को बालिका को जन्म दिया है. अस्पताल के डॉक्टर दोनो के स्वास्थ्य की देखरेख में लगे है. जिला बाल कल्याण समिति भी इनका विशेष ध्यान रख रही है.
बाल कल्याण समिति की महिला सदस्य ने छात्रा और उसकी मां से मिलकर जानकारी हासिल करने के प्रयास किए लेकिन अभी तक किसी ने यह नहीं बताया कि वह गर्भवती कैसे हो गई. इसके लिए कौन जिम्मेदार है. अस्पताल की सूचना पर खेड़ापा थाना पुलिस भी प्रयास कर रही है कि बालिका के साथ कोई ज्यादती हुई है तो उसके विरुद्ध कार्रवाई की जा सके. लेकिन अभी तक पुलिस को भी कोई सफलता हासिल नहीं हुई है. पूरे परिवार ने इस मामले में चुप्पी साध ली है.

यह भी पढ़ें. जोधपुर में 10वीं कक्षा की छात्रा हुई गर्भवती, उम्मेद अस्पताल में भर्ती

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष डॉ. धनपत गुर्जर ने बताया कि परिजन किसी भी तरह की जानकारी देने के लिए तैयार नहीं है. फिलहाल हमने डॉक्टरों से नवजात और छात्रा का ध्यान रखने का कहा है. काउंसलिंग के माध्यम से धीरे-धीरे घटनाक्रम जानने का प्रयास करेंगे.

दबाव या डर...क्यों चुप है परिवार

जानकारी के अनुसार अनुसूचित जाति का यह परिवार अभी तक किसी को खुलकर कोई जानकारी नहीं दे रहा है. खेड़ापा थाना पुलिस भी उनके निवास क्षेत्र के आसपास से जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है कि कहीं बालिका के साथ कुछ ज्याददती तो नहीं हुई. ऐसा भी माना जा रहा है कि इस तरह के मामलों में कई बार परिवार के निकटस्थ लोग शामिल होते हैं. जिसके चलते दबाव में पीड़ित चुप रहते हैं या उन्हें किसी ने डराया है. पिछले दिनों शेरगढ़ थाना क्षेत्र में आए एक इस तरह के मामले में भी परिवार का सदस्य ही आरोपी निकला था.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it