राजस्थान

राजसमंद जिले में किसानों को डेढ़ हजार मीट्रिक टन यूरिया की जरूरत, 150 मीट्रिक टन ही उपलब्ध

Admin Delhi 1
26 Dec 2022 8:07 AM GMT
राजसमंद जिले में किसानों को डेढ़ हजार मीट्रिक टन यूरिया की जरूरत, 150 मीट्रिक टन ही उपलब्ध
x

राजसमंद न्यूज: राजसमंद में यूरिया खाद की मांग लगातार बढ़ने के बाद अब यहां के किसानों को यूरिया के लिए भटकना पड़ रहा है। जिले में जनवरी तक डेढ़ हजार मीट्रिक टन की आवश्यकता बताई जा रही है। यूरिया खाद के लिए किसान दुकानों पर जाकर सहकारी समिति खरीद बिक्री कर रहे हैं। लेकिन यूरिया उपलब्ध नहीं है। रबी की बुवाई के समय भी डीएपी के लिए मारामारी मची रहती थी। जिले में रबी की बुआई का काम पूरा हो चुका है। गेहूं और जौ की फसल के लिए यूरिया की जरूरत होती है। इस वजह से अब इसकी डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है।

कृषि विभाग के अनुसार जिले में 150 से 200 मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध है। जबकि जनवरी तक 1500 मीट्रिक टन यूरिया की जरूरत होगी। उपसंचालक कृषि विभाग विस्तार के.सी. मेघवंशी के अनुसार जिले में यूरिया की मांग बढ़ रही है।

आने वाले दिनों में 450 मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध होने की उम्मीद है। यूरिया की डिमांड विभाग को भेज दी गई है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta