राजस्थान

पहचान छुपा कर घर बसा लिया, संबंधित विभाग को वीजा खत्म होने की नहीं दी जानकारी

Sonali
24 Nov 2021 8:07 AM GMT
पहचान छुपा कर घर बसा लिया, संबंधित विभाग को वीजा खत्म होने की नहीं दी जानकारी
x
राजधानी (Jaipur) के रामगंज थाना इलाके में एक पाकिस्तानी युवती ने शादी कर (Pak Girl Marries Indian Man) नाम बदल लिया. नाम बदलने के लिए फर्जीवाड़ा किया.

जनता से रिश्ता। राजधानी (Jaipur) के रामगंज थाना इलाके में एक पाकिस्तानी युवती ने शादी कर (Pak Girl Marries Indian Man) नाम बदल लिया. नाम बदलने के लिए फर्जीवाड़ा किया. फर्जी दस्तावेज (Fake Documents) बनवाए, संबंधित विभाग को वीजा खत्म होने की जानकारी नहीं दी और पहचान छुपा कर घर बसा लिया.

पुलिस ने वीजा के आधार पर पड़ताल की तो सारे खुलासे हुए. मामले को गंभीर मानते हुए इस संबंध में पुलिस मुख्यालय की सीआईडी ब्रांच के पुलिस अधीक्षक शांतनु कुमार सिंह की ओर से रामगंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया गया है.
1985 में आई थी मीना कुमारी
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार 1985 में एक पाकिस्तानी हिन्दू परिवार (Pak Hindu Family) भारत आया था. जिसमें पति-पत्नी और उनकी एक बेटी थी. भारत प्रवास के दौरान पति की मौत हो गई. लंबा समय बीत जाने के बाद जब पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि वीजा समाप्त होने के बाद भी पाकिस्तानी दंपति के साथ आई उनकी बेटी मीना कुमारी अपने वतन पाकिस्तान नहीं लौटी है.
और पुलिस के छूट गए पसीने
पुलिस ने जब पड़ताल शुरू की तो मीना कुमारी की हकीकत सामने आई. पता चला वो जयपुर के रामगंज थाना इलाके में रहने वाले मोहम्मद कुरैशी की बीवी परवीन बानो है. इसके लिए नाम बदलकर परवीन बानो रख लिया है. फर्जी दस्तावेजों (Fake Documents) के बल पर मीना कुमारी ने परवीन बानो के नाम से आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज बनवा लिए और यहां रहने लगी.
पुलिस मुख्यालय की सीआईडी क्राइम ब्रांच (CID Crime Branch) को पाकिस्तानी नागरिक मीना कुमारी (A Girl From Pakistan) को ढूंढने में काफी पापड़ बेलने पड़े, हालांकि मुखबिर तंत्र व लोकल इंटेलिजेंस (Local Intelligence) के आधार पर पुलिस मीना कुमारी तक पहुंचने में कामयाब रही. फिलहाल पुलिस ने आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471, 120 बी और विदेशी विषयक अधिनियम 1946 के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच करना शुरू किया है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it