राजस्थान

गहलोत कैबिनेट ने बैठक में नहीं लिया कोई फैसला, कोरोना की चपेट में आ रहे स्कूली बच्चे, फिर भी चालू प्रदेश में स्कूल

Gulabi
25 Nov 2021 5:21 AM GMT
गहलोत कैबिनेट ने बैठक में नहीं लिया कोई फैसला, कोरोना की चपेट में आ रहे स्कूली बच्चे, फिर भी चालू प्रदेश में स्कूल
x
स्कूलों में कोविड संक्रमण पर सरकार चिंतित
राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक (Rajasthan Cabinet Meeting) में बुधवार को कई अहम फैसले लिये गए. माना जा रहा था कि राज्य में खासकर स्कूल में बढ़ते कोरोना केस के मद्देनजर स्कूल बंद किए जाने पर भी फैसला आ सकता है (Corona Cases). लेकिन बैठक में इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया. हालांकि नए शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला (Minister BD Kalla) बैठक में प्रस्ताव लेकर गए थे.
दरअसल राजस्थान में हाल के दिनों में कई स्कूली बच्चे कोरोना की चपेट में आए हैं. जिसके बाद विपक्ष भी लगातार सरकार पर हमलावर था. बुधवार को कैबिनेट की बैठक में माना जा रहा था कि इस संबंध में कोई फैसला लिया जा सकता है. शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला स्कूलों में कोरोना गाइडलाइन तय करने का प्रस्ताव लेकर पहुंचे, लेकिन उस पर फैसला नहीं हुआ. बताया गया कि मुख्यमंत्री इस प्रस्ताव पर पहले सभी जिलों के कलेक्टर और मेडिकल ऑफिसर्स से चर्चा करेंगे. फिर कोई फैसला लेंगे.
स्कूलों में कोविड संक्रमण पर सरकार चिंतित
हालांकि बैठक में मंत्रिपरिषद ने कोरोना पर चर्चा पर जोर दिया. मंत्रिपरिषद ने कहा कि कोविड महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सतर्कता और कोविड अनुशासन की निरन्तर पालना करना जरूरी है. विगत दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में कुछ वृद्धि हुई है. विद्यालयों में भी कोविड संक्रमण के मामले आए हैं. जिस पर राज्य सरकार चिंतित है और प्रदेश में मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर को लगातार मजबूत किया जा रहा है.
वहीं जयपुर में मंगलवार को एक ही दिन में महापुरा स्थित जयश्री पेड़ीवाल अंतरराष्ट्रीय स्कूल में 11वीं के 12 बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले. इनमें 11 लड़के व 1 लड़की है और एक बच्ची को छोड़कर सभी डे-बोर्डिंग वाले दूसरे राज्यों के हैं. जिसके बाद बुधवार को शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक ली थी. इसमें स्कूलों के मौजूदा हालातों की रिपोर्ट तैयार की गई थी.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it