राजस्थान

जमीनी विवाद के चलते बुजुर्ग की हत्या, 18 माह पूर्व बेटे को भी उतारा मौत के घाट

Rounak
1 July 2022 12:24 PM GMT
जमीनी विवाद के चलते बुजुर्ग की हत्या, 18 माह पूर्व बेटे को भी उतारा मौत के घाट
x

छबड़ा: बारां जिले के छबड़ा थाना क्षेत्र में आज सुबह 65 वर्षीय बुजुर्ग की आधा दर्जन हमलावरों ने कुल्हाड़ी से हमला कर नृशंस हत्या कर दी गई. 18 माह पूर्व मृतक के बेटे को भी हमलावरों के रिश्तेदारों ने धारदार हथियारों से हमला कर हत्या कर दी थी. हत्या के पीछे पुराना जमीनी विवाद बताया जा रहा है.

बारां के छबड़ा थाना क्षेत्र के खेरखेड़ा मीणा गांव के पास खेत के बने मकान में आज 65 वर्षीय बुजुर्ग कन्हिराम का शव लहूलुहान अवस्था में शव पड़ा मिला. मृतक के बेटे राजाराम के अनुसार उसके पिता की आधा दर्जन हमलावरों ने कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी.
मृतक के बेटे 25 वर्षीय बबलू मीणा का 18 माह पूर्व गांव के ही कुछ लोगों ने हमला कर हत्या कर दी थी हालांकि बबलू के हत्या के आरोपी गिरफ्तार होकर जेल में है लेकिन कुछ दिन से गिरफ्तार आरोपियों के रिश्तेदार मामले में राजीनामे को लेकर मृतक के परिवार वालों को धमका रहे थे, जिसकी मौखिक सूचना मृतक के परिवार वालों ने पुलिस को भी दे दी थी लेकिन पुलिस ने मामले में कोई गंभीरता नहीं दिखाई.
बीती रात कन्हीराम गांव से 1 किलोमीटर दूर खेत के घर पर सो रहा था. आज सुबह जब उसका बेटा राजाराम वहां गया तो उसे अपने पिता का लहूलुहान हालत में शव मिला. घटना के बाद सूचना पाकर छबड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को ले जाकर छबड़ा अस्पताल के पोस्टमार्टम रूम में रखवाया, जहां मेडिकल बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम करवाया गया. मामले के मृतक के परिजनों ने छबड़ा थाने में गांव के आधा दर्जन से ज्यादा लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दी है.
इस पूरे मामले में छबड़ा थाना पुलिस की लापरवाही भी सामने आई है. 18 माह पूर्व बेटे बबलू की हत्या के बाद भी आरोपियों के परिजनों द्वारा पीड़ित परिवार को धमकाया जा रहा था, जिसकी सूचना मिलने के बावजूद छबड़ा थाना पुलिस ने गंभीरता नहीं दिखाई. फिलहाल पुलिस हत्या के नामजद आरोपियों के तलाश में जुट गई है.
वहीं, घटना के गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिनेन्द्र जैन भी मौके पर पहुंच गए हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं. वहीं, एहतियात के तौर पर खेर खेड़ा गांव में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है. फिलहाल पूरा गांव पुलिस छावनी बना हुआ है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta