राजस्थान

पिता ने अपने 11 साल के बेटे और पत्नी के साथ छोटे बेटे के पेट में घोंपा छुरा, चार दिनों से कर रहा था मारने की प्लानिंग

Nidhi Singh
3 Nov 2021 5:49 AM GMT
पिता ने अपने 11 साल के बेटे और पत्नी के साथ छोटे बेटे के पेट में घोंपा छुरा, चार दिनों से कर रहा था मारने की प्लानिंग
x
पुलिस ने बताया कि तंबोलिया गांव में नरेश मीणा की वेल्डिंग की दुकान है. वह यहां अपनी पत्नी लक्ष्मी, बेटे विशाल और 6 साल की बेटी और डेढ़ महीने के बेटे के साथ रहता है

राजस्थान के डूंगरपुर जिले (Rajasthan, Dungarpur District) के तंबोलिया गांव में सोमवार देर रात एक ऐसी वारदात हुई है. जिसने रिश्तों को तारतार कर के रख दिया है. यहां एक पिता ने अपने 11 साल के बेटे की गला रेत कर हत्या (father murderd her son) कर दी है. इतना ही नहीं पास ही सो रही पत्नी और डेढ़ महीने के बेटे पर चाकुओं से वार किए. दर्द से तड़पते भाई के रोने और मां के चिल्लाने की आवाज सुनकर अचानक से 6 साल की बेटी की नींद खुल गई. जैसे ही पिता ने ये देखा तो वो उसे भी मारने के लिए दौड़ा. इतने में ही बेटी भागकर पास ही घर में सो रहे दादा-दादी के पास चली गई. जिस कारण उसकी जान बच गई.

बच्चे और बीवी को मारने के बाद पिता ने कुएं में छलांग लगा दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल पत्नी और डेढ़ महीने के बच्चे को हॉस्पिटल में भर्ती कराया और बेटे के शव को हॉस्पिटल की मॉर्च्यूरी में रखवाया है. पुलिस ने पिता को कुएं से निकालकर गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में आरोपी ने चार दिनों से परिवार की हत्या के बाद सुसाइड की प्लानिंग के बारे में बताया.
डेढ़ महीने के बेटे के पेट में छुरा घोंपा
पुलिस ने बताया कि तंबोलिया गांव में नरेश मीणा की वेल्डिंग की दुकान है. वह यहां अपनी पत्नी लक्ष्मी, बेटे विशाल और 6 साल की बेटी और डेढ़ महीने के बेटे के साथ रहता है पास ही घर में भाई और माता-पिता रहते हैं. घटना की रात परिवार के सभी सदस्य रात को खाना खाकर सो गए. नरेश मीणा के पास उसका बेटा विशाल सो रहा था. उसकी पत्नी लक्ष्मी, बेटी और डेढ़ महीने के बेटे को लेकर दूसरे पलंग पर सो रही थी. तभी रात करीब 2 बजे नरेश जागा और छुरा उठाकर पास सो रहे बेटे विशाल का गला रेत कर हत्या कर दी. चिल्लाने की आवाज सुनकर पत्नी और दोनों बच्चे जाग गए. पत्नी लक्ष्मी के गले और सिर पर छुरे से वार कर लहूलुहान करने के बाद डेढ़ महीने के बेटे के पेट में छुरा घोंप दिया.
पिता ने लगाई कुएं में छलांग
6 साल की मासूम पिता की इस करतूत को देखकर डर गई. भाइयों और मां की चीख सुनकर वो घर के बाहर की ओर भागी. पिता उसको पकड़ने छुरा लेकर पीछे भागा. वह उसको पकड़ पाता उससे पहले ही पास ही घर में सो रहे दादा-दादी के पास चिल्लाते हुए पहुंच गई. जिसके बाद आरोपी नरेश ने पास ही बने कुएं में छलांग लगा दी.
बच्ची ने पिता की करतूत के बारे में दादा गटूलाल मीणा को बताया तो उनके होश उड़ गए. परिवार के अन्य सदस्य शोर मचाते हुए बच्ची के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. वहां दोनों बच्चे और बहू लहूलुहान हालत में पड़े मिले. स्थानीय लोग भी शोर-शराबा सुनकर इकट्ठे हो गए. सूचना पर पहुंची पुलिस ने खून से लथपथ हालत में तीनों को हॉस्पिटल पहुंचाया. वहां डॉक्टर्स ने विशाल को मृत घोषित कर दिया. घायल पत्नी और डेढ़ महीने के बेटे को गंभीरावस्था में भर्ती कर लिया गया है.
कुएं से बाहर निकालकर किया गिरफ्तार
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने नरेश की तलाश शुरू कर दी थी. करीब 2 घंटे तलाश के बाद आरोपी घर के पास स्थित कुएं में लगी मोटर के पट्टे पर बैठा मिला. पुलिस ने आरोपी को कुएं से बाहर निकाला और गिरफ्तार किया. पूछताछ में उसने बताया कि वह सुसाइड के लिए कुएं में कूदा था, लेकिन पानी में डूबने लगा तो मन बदल गया. कुएं में मोटर के पट्‌टे पर बैठकर जान बचाई.
चार दिनों से कर रहा था परिवार को मारने की प्लानिंग
पकड़े जाने के बाद नरेश ने बताया कि वह पिछले 4 दिनों से अपने परिवार के साथ खुद को भी मारने की प्लानिंग कर रहा था, तीन दिनों तक वह सफल नहीं हो पाया. सोमवार की रात बड़े बेटे, पत्नी और छोटे बेटे पर छुरे से वार किए, लेकिन बेटी भाग गई. जिस कारण उसकी प्लानिंग फैल हो गई. वही इस मामले की वजह पारिवारिक जमीन का विवाद और आर्थिक तंगी बताई जा रही है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it