राजस्थान

डेंगू का आतंक: एक दिन में मिले सर्वाधिक 593 मरीज

Dev upase
1 Nov 2021 3:14 PM GMT
डेंगू का आतंक: एक दिन में मिले सर्वाधिक 593 मरीज
x
केस बिगड़ने के बाद मरीज पहुंच रहे हैं अस्पताल

जनता से रिस्ता वेबडेसक | राजस्थान में कोरोना (Rajasthan dengue) के बाद अब डेंगू ने अपने पैर पसार लिए हैं. हर जिले में जिला अस्पताल डेंगू के मरीजों से पटा पड़ा है. स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के हिसाब से 29 अक्टूबर को पूरे राज्य में 593 रिकॉर्ड डेंगू के केस मिले हैं. जो एक दिन में मिले केसों में इस साल में अब तक के सर्वाधिक केस हैं. वहीं डेंगू से 2 लोगों की मौत भी हुई है. राज्य में सबसे ज्यादा डेंगू के मरीज राजधानी जयपुर मिले हैं. यहां 102 मरीज मिले हैं. यह स्थिति तब है जब जयपुर नगर निगम ग्रेटर और जयपुर नगर निगम हैरिटेज की स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी 250 वार्डों में 2 बार फोगिंग करने का दावा कर रही है.

जयपुर के अलावा धौलपुर, कोटा, प्रतापगढ़, जोधपुर, बीकानेर, झालावाड़ समेत कई जिलों में भी स्थिति बेकाबू है. लगभग सभी जिलों में ही बड़ी संख्या में डेंगू, मलेरिया के मरीज मिल रहे हैं.

केस बिगड़ने के बाद मरीज पहुंच रहे हैं अस्पताल

जयपुर के SMS हॉस्पिटल के डॉक्टरों का कहना है कि उनके पास ज्यादातर मरीज वो आ रहे हैं जिनकी हालत सीरियस है. दरअसल बुखार होने के बाद व्यक्ति पहले अपने स्तर पर दवाइयां लेकर ठीक होने का प्रयास करते हैं, जबकि डेंगू के केस में हालात 4-5 दिन बाद तेजी से बिगड़ती है. उससे पहले व्यक्ति को सामान्य बुखार के अलावा कोई लक्षण नजर नहीं आते हैं. ऐसे में डॉक्टरों का कहना है कि अगर किसी व्यक्ति के बुखार है तो उसे एक बार डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करना चाहिए, ताकि आगे की सीरियस स्थिति से बचा जा सके.

सभी इलाज कराने के लिए पहुंच रहे हैं जयपुर

जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, कोटा जैसे बड़े शहरों में आसपास के छोटे शहरों और गांवों से बड़ी संख्या में मरीज रेफर होकर पहुंच रहे हैं. यहां अस्पतालों में मरीजों की भीड़ बढ़ गई है. जयपुर का राजकीय जयपुरिया, हरबक्श कावंटिया, सैटेलाइट हॉस्पिटल, जनाना चिकित्सालय चांदपोल और सांगानेरी गेट महिला चिकित्सालय में भी बड़ी संख्या में डेंगू के मरीज भर्ती हो रहे हैं.

इन जिलों में है स्थिति बेहद खराब

रिपोर्ट के अनुसार सबसे ज्यादा केस जयपुर में है, जहां अब तक डेंगू के 1886 से ज्यादा केस मिले चुके हैं. इसके बाद दूसरा नंबर कोटा का आता है, जहां 932 मरीज मिले हैं. वहीं झालावाड़ में 806, करौली 622, अलवर 578 और जोधपुर में 574 केस मिले है. पूरे राज्य में अब तक डेंगू से 23 से ज्यादा लोगों की जान चली गई, जिसमें सबसे ज्यादा मौत अलवर और दौसा जिले में 4-4 लोगों की हुई.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it