पंजाब

फिरोजपुर और बठिंडा में कर्ज में डूबे दो किसानों ने की आत्महत्या

Renuka Sahu
6 March 2022 5:50 AM GMT
फिरोजपुर और बठिंडा में कर्ज में डूबे दो किसानों ने की आत्महत्या
x

फाइल फोटो 

पंजाब के फिरोजपुर के तलवंडी भाई क्षेत्र में तीन बेटियों की शादी में लिया छह लाख का कर्ज न चुका पाने पर गांव करमूवाला के किसान बूटा सिंह ने जहरीली दवा निगल आत्महत्या कर ली है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पंजाब के फिरोजपुर के तलवंडी भाई क्षेत्र में तीन बेटियों की शादी में लिया छह लाख का कर्ज न चुका पाने पर गांव करमूवाला के किसान बूटा सिंह ने जहरीली दवा निगल आत्महत्या कर ली है। अब चौथी बेटी की शादी करनी थी और पैसों का कहीं से भी बंदोबस्त नहीं हो पा रहा था।

मृतक किसान के परिजनों ने बताया कि उनके पास डेढ़ एकड़ जमीन है। बड़ी मुश्किल से घर का गुजारा चलता है। बूटा की चार बेटियां हैं, तीन बेटियां शादीशुदा हैं। उनकी शादी के लिए बूटा ने छह लाख रुपये कर्ज लिए थे। उसे चुका नहीं पाया था। अब चौथी बेटी की शादी करनी थी लेकिन पहले के उधार के कारण पैसों का बंदोबस्त नहीं हो पा रहा था। इसी बात से बूटा चिंतित था। परेशान होकर उसने जहरीली दवा निगल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।
घर के किसी सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग
ग्रामीणों का कहना है कि बूटा की मौत के बाद घर में कमाने वाला कोई नहीं है। ग्रामीणों ने पंजाब सरकार से मांग की है कि उनके परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी दी जाए ताकि घर का गुजारा चल सके।
बठिंडा में कर्ज से परेशान किसान ने जहर निगल की खुदकुशी
बठिंडा के जिले के गांव संगत कलां में एक युवा किसान गुरवतार सिंह (24) ने कर्ज से परेशान होकर जहर खाकर खुदकुशी कर ली। उसके पिता मक्खन सिंह ने भी डेढ़ वर्ष पहले कर्ज से तंग आकर खुदकुशी कर ली थी।
सिविल अस्पताल में अमरजीत सिंह ने बताया कि उसके भतीजे गुरवतार ने तीन माह पहले अपनी बहन की शादी की थी। इसके बाद उसके ऊपर करीब पांच लाख रुपये का कर्ज चढ़ गया था। कर्ज न चुका पाने को लेकर भतीजा परेशान था। शनिवार को सुबह गुरवतार घर पर अकेला था तो उसने जहर निगल लिया।
जब उसकी मां घर पहुंचीं तो गुरवतार सिंह को तड़पते देखा। उन्होंने परिजनों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद अमरजीत सिंह ने भतीजे को बठिंडा के एक प्राइवेट अस्पताल में दाखिल करवाया जहां पर उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि गुरवतार मां का इकलौता सहारा था। उन्होंने सरकार से मांग की कि उक्त परिवार का कर्ज माफ किया जाए।
इसके अलावा उन्होंने सरकार से मांग की कि गांव में बढ़ रहे नशे को रोका जाए। थाना संगत के एएसआई ने कहा कि मृतक का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत के असल कारण पता चलेंगे।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta