पंजाब

नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस को दिया नया अल्टीमेटम, ये शर्त मानी गई तभी करेंगे काम

Renuka Sahu
9 Nov 2021 6:25 AM GMT
नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस को दिया नया अल्टीमेटम, ये शर्त मानी गई तभी करेंगे काम
x

फाइल फोटो 

पंजाब कांग्रेस में पिछले कई महीने से जारी घमासान खत्म नहीं हो रही है. अब नवजोत सिंह सिद्धू का विवाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ शुरू हो गया है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पंजाब कांग्रेस (Congress) में पिछले कई महीने से जारी घमासान खत्म नहीं हो रही है. अब नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) का विवाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) के साथ शुरू हो गया है. सिद्धू ने अपनी ही सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा कि क्या वह 2015 कोटकपूरा पुलिस गोलीबारी की घटना के पीड़ितों को न्याय दिलाएगी या दोषियों की 'ढाल' बनकर उनके साथ खड़ी होगी. इसके साथ ही पंजाब कांग्रेस प्रमुख के रूप में काम करने को लेकर उन्होंने नई शर्त रख दी है.

एजी और डीजीपी की नियुक्ति पर भी उठाए सवाल
नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने पंजाब के महाधिवक्ता (AG) एपीएस देओल और कार्यवाहक पुलिस महानिदेशक (DGP) आईपीएस सहोता की नियुक्ति पर भी सवाल उठाया. उन्होंने चरणजीत सिंह चन्नी सरकार के पूछा, 'आपकी नियुक्तियों में फिर से गड़बड़ी हुई है. चाहे आप (यहां) न्याय देने वाले हों या दोषियों की ढाल बनकर उनके साथ खड़े हों. क्या इसका कोई जवाब है?' उन्होंने कहा, 'सिद्धू जहां हैं, वहीं खड़े हैं. जो बदल गए हैं, उन्हें अपना रूख साफ करना चाहिए.'
सीएम चन्नी ने आलाकमान के सामने उठाया मुद्दा
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की ओर से बनाए जा रहे दबाव की रणनीति पर आपत्ति जताई है और इस मुद्दे को कांग्रेस आलाकमान के सामने उठाया है. बता दें कि इससे पहले सिद्धू ने कहा था कि चरणजीत सिंह चन्नी को सीएम बनाने के पीछे उनका नहीं बल्कि पार्टी हाईकमान का हाथ था.
मतभेद को लेकर सिद्धू-चन्नी के बीच बैठक
नियुक्तियों को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तनातनी के बाद कांग्रेस के पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने सोमवार को दोनों नेताओं के साथ बैठक की. सिद्धू द्वारा अपनी ही सरकार पर सवाल उठाए जाने के के कुछ ही घंटों बाद यह बैठक हुई, लेकिन यह बेनतीजा रही.
नवजोत सिंह सिद्धु ने रखी है ये शर्त
नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि उन्होंने पंजाब कांग्रेस प्रमुख के रूप में अपना इस्तीफा वापस ले लिया है, लेकिन यह भी शर्त रखी है कि जिस दिन एपीएस देओल के स्थान पर एक नया महाधिवक्ता (AG) नियुक्त किया जाएगा और नए डीजीपी की नियुक्ति के लिए संघ लोक सेवा आयोग से पैनल आएगा, उसके बाद ही वह कार्यभार संभालेंगे.
हरीश रावत ने की अलग-अलग चर्चा
पंजाब के कैबिनेट मंत्री राज कुमार वेरका ने कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बैठक की और जो भी गलतफहमी है उसे जल्द ही दूर कर लिया जाएगा. यह पूछे जाने पर कि दोनों नेताओं के बीच मतभेद कैसे खत्म होंगे, तो वेरका ने कहा कि हरीश रावत ने चन्नी और सिद्धू के साथ अलग-अलग और संयुक्त रूप से मुद्दों पर चर्चा की. कुछ मुद्दे थे और उन्हें आज काफी हद तक सुलझा लिया गया है और जो भी शेष मुद्दे हैं, उन्हें जल्द ही सुलझा लिया जाएगा.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it