पंजाब

घर वापसी: पंजाब लौट रहे किसानों का जींद में फूलों से स्वागत, लगाए दो प्रवेश द्वार

Kunti
11 Dec 2021 3:53 PM GMT
घर वापसी: पंजाब लौट रहे किसानों का जींद में फूलों से स्वागत, लगाए दो प्रवेश द्वार
x
पिछले एक साल से दिल्ली बॉर्डरों पर धरना दे रहे किसान अपने घरों के लिए लौटना शुरू हो गए हैं।

पिछले एक साल से दिल्ली बॉर्डरों पर धरना दे रहे किसान अपने घरों के लिए लौटना शुरू हो गए हैं। दिल्ली से चलकर पंजाब की ओर जाने वाले किसानों के बांगर की धरती जींद में स्वागत की सभी तैयारियां कर ली गई हैं। अभी एक-दो ट्रैक्टर खटकड़ टोल पर पहुंचे हैं। दोपहर बाद दिल्ली से लौट रहे किसानों की संख्या ज्यादा होगी। किसानों का स्वागत पुष्पा वर्षा से किया जाएगा। वहीं किसानों के स्वागत के लिए दो स्वागत द्वार भी बनाए गए हैं।

खटकड़ टोल के पास चल रहा धरना सबसे बाद में समाप्त किया जाएगा। टोल कमेटी प्रधान सतबीर पहलवान ने कहा कि जींद के धरने से किसान सबसे बाद में उठेंगे। पंजाब के सभी किसानों के लौटने के बाद खटकड़ टोल पर एक बड़ी सभा बुलाई जाएगी। इसमें किसान नेता राकेश टिकैत सहित कई बड़े नेता शिरकत करेंगे। इसके बाद धरना समाप्त किया जाएगा।
कितलाना टोल से आज हटेगा किसानों का धरना
संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर भिवानी में एक साल से धरने पर बैठे किसान शनिवार को कितलाना टोल प्लाजा को खाली कर देंगे। शनिवार को भव्य समारोह के साथ धरने का समापन किया जाएगा। धरना स्थल पर ही आयोजित कार्यक्रम में खापों के प्रतिनिधियों और उन सब लोगों को सम्मानित किया जाएगा जिन्होंने किसान आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
धरने पर सेवादारों और नियमित रूप से आने वाले लोगों को भी सम्मानित किया जाएगा। किसान नेता ओमप्रकाश ने बताया कि यह धरना लगभग 1 साल से लगातार चलता रहा है। संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर यह धरना शुरू किया गया था और अब संयुक्त किसान मोर्चा के निर्देश पर ही इसे स्थगित किया जा रहा है। भविष्य में भी स्थानीय किसान किसी मुद्दे के लिए लड़ाई लड़ने को हमेशा तैयार रहेंगे। भविष्य में जब भी संयुक्त किसान मोर्चा किसी भी बात का आह्वान करेगा तो उसके लिए क्षेत्र का हर एक किसान और मजदूर हमेशा खड़ा मिलेगा।
टीकरी बॉर्डर से नाचते गाते रवाना हुए किसान
कृषि कानून रद्द होने के बाद टीकरी बॉर्डर से डीजे की धुनों पर नाचते गाते हुए किसान अपने घरों की तरफ लौटने लगे हैं। किसान अपने ट्रैक्टरों व अन्य वाहनों को सजा कर अपने घरों की तरफ बढ़ रहे हैं। यातायात को सुचारू बनाने के लिए पुलिस प्रशासन की तरफ से जगह-जगह बैरिकेड लगा कर पुलिस कर्मचारियों को तैनात किया गया है। टीकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड अगले दो-तीन दिनों में हटने की संभावना है। बहादुरगढ़ शहर के लोगों के साथ-साथ दिल्ली और हरियाणा की तरफ से आने जाने वाले वाहन चालकों को भी राहत मिलेगी।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it