पंजाब

17 साल से लगातार अरूसा और कैप्टन के बीच दोस्ती, अक्सर सामने आती रही हैं तस्वीरें

Nidhi Singh
25 Oct 2021 3:39 AM GMT
17 साल से लगातार अरूसा और कैप्टन के बीच दोस्ती, अक्सर सामने आती रही हैं तस्वीरें
x
अरूसा पंजाब में कई मौकों पर नजर आती रही हैं. कभी पंजाब के मंत्रियों रजिया सुल्ताना, राणा सोढी वगैरह के साथ, कभी कैप्टन के ​नजदीकी रिश्तेदारों के साथ अरूसा तस्वीरों में दिखती रही हैं.

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस से अपनी राह अलग करने के बाद अपनी नई पार्टी बनाने की तैयारी में हैं. वहीं दूसरी तरफ उनके ही शागिर्द रहे और अब पंजाब के उप मुख्यमंत्री बन चुके सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कैप्टन की पाकिस्तानी पत्रकार मित्र अरूसा आलम को लेकर उनपर निशाना साधा है. रंधावा ने अरूसा पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की सदस्य होने का संदेह जताते हुए जांच की मांग कर दी है. इसको लेकर पंजाब में सियासी बवाल मचा हुआ है.


पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा आलम के साथ कैप्टन अमरिंदर सिंह की दोस्ती करीब 17 साल पुरानी है. यह कहानी शुरू होती है, 2004 से. पाकिस्तान दौरे के दौरान अरूसा से कैप्टन अमरिंदर की पहली मुलाकात हुई थी. 2006 में जालंधर में पंजाब प्रेस क्लब के निमंत्रण पर जब वह उद्घाटन समारोह में आई थीं, तब एक बार फिर दोनों की मुलाकात हुई और इसके बाद दोस्ती बढ़ती चली गई. पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा आलम के साथ कैप्टन अमरिंदर सिंह की दोस्ती करीब 17 साल पुरानी है. यह कहानी शुरू होती है, 2004 से. पाकिस्तान दौरे के दौरान अरूसा से कैप्टन अमरिंदर की पहली मुलाकात हुई थी. 2006 में जालंधर में पंजाब प्रेस क्लब के निमंत्रण पर जब वह उद्घाटन समारोह में आई थीं, तब एक बार फिर दोनों की मुलाकात हुई और इसके बाद दोस्ती बढ़ती चली गई.

पंजाब प्रेस क्लब के उद्घाटन समारोह में कैप्टन ने अरूसा को विशेष तौर पर मंच पर बुलाकर पास बिठाया था. उस समय दोनों को लेकर चर्चा शुरू हो गई थी और फिर पता चला था कि पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा पहले से ही कैप्टन की मित्र हैं. फिर अरूसा का भारत आना-जाना लगा रहा. 2017 में हुए अमरिंदर सिंह के शपथ ग्रहण में भी अरूसा को आमंत्रित किया गया था.

पाकिस्तानी नागरिक को भारत का ​वीजा मिलना बहुत आसान नहीं है. अरूसा को भी केंद्रीय एजेंसियों की जांच के बाद ही वीजा मिला करता था. अरूसा पंजाब में कई मौकों पर नजर आती रही हैं. कभी पंजाब के मंत्रियों रजिया सुल्ताना, राणा सोढी वगैरह के साथ, कभी डीजीपी दिनकर गुप्ता या फिर कैप्टन के ​नजदीकी रिश्तेदारों के साथ अरूसा तस्वीरों में दिखती रही हैं. हालांकि कैप्टन ने कभी कुछ छिपाया नहीं.

17 साल से लगातार अरूसा और कैप्टन के बीच दोस्ती है, लेकिन कभी भी इस रिश्ते को कैप्टन के विरोधियों ने मुद्दा नहीं बनाया. शिरोमणि अकाली दल या आम आदमी पार्टी ने चुनावों में कभी कैप्टन को नहीं घेरा. कैप्टन दूसरी बार सीएम बने तो उन्होंने शिमला के पास मशोबरा में अपना जन्मदिन मनाया था. इस फंक्शन में भी अरूसा को उन्होंने बुलाया था. मशहूर पत्रकार रहे खुशवंत सिंह ने अमरिंदर सिंह की बायोग्राफी 'कैप्टन अमरिंदर सिंह द पीपल्स महाराजा' के एक चैप्टर में दोनों की दोस्ती के बारे में लिखा है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it