पंजाब

भगवंत मान ने जेलों में वीआईपी कल्चर खत्म करने का किया ऐलान, लापरवाही करने पर सस्पेंड किए जाएंगे अधिकारी

Renuka Sahu
14 May 2022 6:56 AM GMT
Bhagwant Mann announces to end VIP culture in jails, officers will be suspended for negligence
x

फाइल फोटो 

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अहम फैसला लिया है, जहां उन्होंने जेलों में वीआईपी कल्चर खत्म करने का ऐलान किया है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने अहम फैसला लिया है, जहां उन्होंने जेलों में वीआईपी कल्चर खत्म करने का ऐलान किया है. इसके साथ ही उन्होंने लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई करने का भी फैसला किया है. उन्होंने कहा कि वीआईपी संस्कृति को समाप्त करने और जेल कर्मचारियों के सुचारू कामकाज को सुनिश्चित करने के लिए जेलों के सभी वीआईपी कमरों को जेल प्रबंधन ब्लॉक में परिवर्तित किया जाएगा. पंजाब (Punjab) के सीएम ने कहा कि जेल में लापरवाही के मामले में संबंधित अधिकारियों को जवाबदेह ठहराया जाएगा और सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इससे पहले आम आदमी पार्टी की अगुवाई वाली पंजाब सरकार ने प्रदेश के आठ वरिष्ठ नेताओं की सुरक्षा में कटौती की थी, जिनमें प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री राजिंदर कौर भट्ठल, प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद हरसिमरत कौर बादल प्रमुख हैं. सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि इन नेताओं की सुरक्षा में से कुल 127 पुलिसकर्मियों एवं नौ वाहनों को वापस लिया गया है. पंजाब में विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जीत के बाद प्रदेश पुलिस विभाग ने 11 मार्च को 122 पूर्व मंत्रियों और विधायकों की सुरक्षा वापस लेने का आदेश दिया था. पंजाब पुलिस की इस घोषणा के दो महीने बाद यह कदम उठाया गया.
ताजा आदेश में कहा गया है कि पूर्व मुख्यमंत्री भट्ठल के साथ 28 और पूर्व विधायक परमिंदर सिंह पिंकी के साथ 26 सुरक्षाकर्मी थे, जिन्हें वापस ले लिया गया है और अब उनके साथ क्रमश: आठ और दो सुरक्षाकर्मी हैं . इसमें कहा गया है कि राज्य सरकार ने पूर्व उप मुख्यमंत्री ओपी सोनी के साथ तैनात 37 पुलिसकर्मियों में से 19 को जबकि पूर्व मंत्री विजय इंदर सिंगला की सुरक्षा में शामिल 22 पुलिसकर्मियों में से 18 को वापस ले लिया है.
आदेश में कहा गया है कि इसी प्रकार पूर्व विधायकों नवतेज सिंह चीमा और केवल ढिल्लों की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों में से 11-11 को वापस बुला लिया गया है. पंजाब सरकार ने प्रदेश के पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ की सुरक्षा में भी कटौती की है और उनकी सुरक्षा में तैनात 14 कर्मियों में से 12 को वापस बुला लिया गया. सरकार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और शिअद सांसद हरसिमरत कौर बादल की सुरक्षा में भी कटौती की और उनकी सुरक्षा में लगे 13 पुलिसकर्मियों में से दो को वापस ले लिया गया.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta