पंजाब

अरविंद केजरीवाल ने पटियाला हिंसा पर तोड़ी चुप्पी, कही 'खालिस्तान' पर ये बड़ी बात

Renuka Sahu
1 May 2022 1:22 AM GMT
Arvind Kejriwal broke his silence on Patiala violence, said this big thing on Khalistan
x

फाइल फोटो 

पंजाब के पटियाला में खालिस्तानी समर्थकों के बवाल पर लगातार आम आदमी पार्टी की सरकार निशाने पर आ गई है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पंजाब (Punjab) के पटियाला (Patiala) में खालिस्तानी समर्थकों के बवाल पर लगातार आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार निशाने पर आ गई है. विपक्षी दल लगातार AAP की भगवंत मान (Bhagwant Mann) सरकार को घेर रहे हैं. अब इस मुद्दे पर पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बड़ा बयान दिया है.

किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा: अरविंद केजरीवाल
केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि पंजाब सरकार ने खालिस्तान विरोधी मार्च के दौरान पटियाला में हुई झड़पों और हिंसा पर सख्त कार्रवाई की है. हिंसा फैलाने वाले किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा. पटियाला में हिंसा के दौरान खालिस्तान बनाने के समर्थन में नारेबाजी होने के सवाल पर AAP के संयोजक ने कहा, 'हम ऐसा कुछ भी नहीं होने देंगे.'
'शांति भंग करने वालों से सख्ती से निपटेंगे'
गुजरात में पार्टी के लिए जनसंपर्क कार्यक्रम करने पहुंचे अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार रात सूरत हवाईअड्डे पर पत्रकारों से बात की. उन्होंने कहा, 'हिंसा (Patiala Violence) या तनाव पैदा करने में शामिल किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा. पंजाब सरकार ने सुबह से ही कड़ी कार्रवाई की है और पटियाला में शांति कायम की गई है. पंजाब की शांति भंग करने की कोशिश करने वाले लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा, चाहे वे किसी भी पार्टी के हों.'
AAP की सांप्रदायिक घृणा का नतीजा: सुखबीर बादल
पटियाला में हुई हिंसा ने विपक्षी दलों को आम आदमी पार्टी की सरकार पर बड़ा हमला बोलने का मौका दे दिया है. शिरोमणि अकाली दल (SAD) के अध्यक्ष प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने पटियाला में हुई हिंसा (Patiala Violence) को पंजाब सरकार की प्रशासनिक नाकामी और लापरवाही भरे राजनीतिक अवसरवाद का नतीजा बताया. उन्होंने कहा, 'महज कुछ सप्ताह में उन्होंने शांति और साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए पंजाबियों की ओर से दशकों से किए गए बलिदान को खतरनाक साम्प्रदायिक खाई के मुहाने लाकर खड़ा कर दिया है. यह साम्प्रदायिक घृणा की राजनीति का नतीजा है जो पिछले कुछ वर्षों से AAP पंजाब में कर रही है.'
पंजाब में शासन करने के लिए AAP पूरी तरह फेल
वहीं, हरियाणा के गुरुग्राम में राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने भी पंजाब की AAP सरकार पर निशाना साधा. अनिल विज ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा वाले राज्य पंजाब में शासन करने के लिए आम आदमी पार्टी पूरी तरह अनुपयुक्त है. उन्होंने पटियाला में हुए संघर्ष (Patiala Violence) को बड़ी चिंता का विषय करार देते हुए कहा कि लोगों को शांति और विश्वास बनाए रखना चाहिए. किसी भी सरकार को ऐसी गतिविधियां करने की अनुमति नहीं देनी चाहिए.
शुक्रवार को खालिस्तानी समर्थकों ने की थी हिंसा
बता दें कि पटियाला (Patiala Violence) में शुक्रवार को शिवसेना की ओर से खालिस्तान विरोधी मार्च निकाला गया था. इसका खालिस्तान समर्थकों ने विरोध किया और तलवारें लेकर सड़कों पर आ गए. बाद में दोनों गुटों में पथराव हो गया. इस दौरान पुलिस को हालात संभालने के लिए गोलियां चलानी पड़ीं. इस घटना के बाद भगवंत मान सरकार की कार्यशैली पर विपक्षी दल लगातार हमला बोल रहे हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta