ओडिशा

ओडिशा पंचायत चुनाव: सीएम की बीजेडी 249 जिला परिषद सीटों पर आगे, भाजपा को अब तक 32 पर बढ़त

Kunti Dhruw
26 Feb 2022 9:06 AM GMT
ओडिशा पंचायत चुनाव: सीएम की बीजेडी 249 जिला परिषद सीटों पर आगे, भाजपा को अब तक 32 पर बढ़त
x
ओडिशा पंचायत चुनाव (Odisha Panchayat Elections) के शुरुआती रुझानों के अनुसार सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (BJD) 249 जिला परिषद क्षेत्र (ZPZ) सीटों पर आगे चल रहा है.

ओडिशा पंचायत चुनाव (Odisha Panchayat Elections) के शुरुआती रुझानों के अनुसार सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (BJD) 249 जिला परिषद क्षेत्र (ZPZ) सीटों पर आगे चल रहा है, जबकि भाजपा उम्मीदवार 32 सीटों पर और कांग्रेस उम्मीदवार 13 सीटों पर आगे हैं. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने कहा कि 315 जेडपीजेड सीटों के लिए मतों की गिनती शनिवार को विभिन्न प्रखंड मुख्यालयों पर सुबह आठ बजे कोविड-19 दिशानिर्देशों के सख्त अनुपालन के साथ शुरू हुई. उन्होंने कहा कि 299 जिला परिषद सीटों के लिए रुझान उपलब्ध हैं, जिसमें बीजद 249 सीटों पर आगे है, भाजपा 32 पर, कांग्रेस 13 सीटों पर आगे है.

उन्होंने बताया कि जिला परिषद जोन की शेष 307 सीटों के लिए 27 फरवरी और 229 जिला परिषद जोन की सीटों की मतगणना 29 फरवरी को की जाएगी. राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव आर एन साहू ने कहा कि यदि पीठासीन अधिकारी द्वारा तैयार किए गए मतपत्र विवरण और मतपेटी में वास्तविक मतपत्रों के बीच कोई विसंगतियां पाई जाती हैं, तो मतपेटी में पाए गए वास्तविक मतपत्रों को ध्यान में रखा जाएगा और तदनुसार गणना की जाएगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे.
पांच अलग-अलग चरणों में हुआ मतदान
मतों की गिनती शनिवार से तीन दिनों तक की जाएगी. इन सीटों के लिए 16, 18, 20, 22 और 24 फरवरी को पांच अलग-अलग चरणों में मतदान हुआ था. ओडिशा में गुरुवार को पंचायत चुनाव के आखिरी चरण में लगभग 70 प्रतिशत मतदान हुआ और 41.81 लाख मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. राज्य निर्वाचन आयुक्त ए.पी. पाधी ने शुक्रवार को आखिरी सूची उपलब्ध होने के बाद मतदान प्रतिशत बढ़ने की संभावना जताई थी, लेकिन इसमें ज्‍यादा बदलाव नहीं हुआ. इस बार कुल मतदान 78.6 प्रतिशत था, जो 2017 में 78.03 प्रतिशत से थोड़ा बेहतर था.
45 मतदान केंद्रों पर हुआ आ पुनर्मतदान
आयोग के अनुसार, चार चरणों के चुनाव में मत प्रतिशत 70 फीसदी से अधिक रहा था. चौथे चरण में 79 प्रतिशत, तीसरे चरण में 78.6 प्रतिशत, दूसरे चरण में 78.3 प्रतिशत और पहले चरण में 77.2 प्रतिशत मतदान हुआ. इस बीच, आयोग ने कम से कम 45 मतदान केंद्रों पर पुनर्मतदान कराया, जहां 16 और 18 फरवरी को पहले तथा दूसरे चरण के चुनाव के दौरान मतदान बाधित हुआ था.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta