नागालैंड

नागालैंड फायरिंग मामले पर आर्मी चीफ नरवणे का एक्शन, कही यह बात

Kunti
13 Jan 2022 11:52 AM GMT
नागालैंड फायरिंग मामले पर आर्मी चीफ नरवणे का एक्शन, कही यह बात
x
सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (Army Chief General MM Naravane) ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा कि चीनी सेना की ओर से किसी भी तरह की धमकी से सख्ती से निपटा जाएगा।

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (Army Chief General MM Naravane) ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा कि चीनी सेना की ओर से किसी भी तरह की धमकी से सख्ती से निपटा जाएगा। जनरल नरवणे ने कहा कि सेना उत्तरी सीमा पर उच्च स्तर की चौकसी और सतर्कता बनाए हुए है, साथ ही सैन्य स्तर की वार्ता के माध्यम से चीन के साथ रिश्तों को भी सुधारने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख में खतरा कम नहीं हुआ है, नरवणे ने चेतावनी देते हुए कहा कि अब भारत किसी भी चुनौती से निपटने के लिए बेहतर तैयार है।

पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद के बारे में बोलते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि पश्चिमी सीमा के पार लॉन्च पैड्स पर आतंकवादियों की बढ़ती सक्रियता की सूचना मिली है। 'आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस' नीति को दोहराते उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार घुसपैठ की बार-बार कोशिश की जा रही है। जनरल नरवने ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना उन्होंने कहा यह हमारे पश्चिमी पड़ोसी के नापाक मंसूबों को उजागर करता है।' सेना प्रमुख ने कहा कि पिछले साल जनवरी से उत्तरी और पश्चिमी सीमाओं पर सकारात्मक विकास हुआ है। जनरल नरवने ने यह भी कहा कि नागालैंड गोलीबारी की घटना की पूरी जांच की जाएगी, जबकि पूर्वोत्तर में समग्र सुरक्षा स्थिति नियंत्रण में रहने पर जोर दिया गया है।
सेना प्रमुख ने चार दिसंबर को नागालैंड के ओटिंग में हुई घटना पर कहा कि इस खेदजनक घटना (Nagaland regrettable incident) की गहन जांच की जा रही है। हम अभियान के दौरान भी अपने देशवासियों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं।' बता दें कि नागालैंड के ओटिन में पिछले साल 4 दिसंबर को सेना द्वारा की गई गोलीबारी में 13 लोगों की मौत हो गई थी, जिसे सेना ने गलत पहचान का मामला बताया है। सेना प्रमुख ने कहा कि सेना में महिलाओं को समान अवसर दिए जा रहे हैं और कनिष्ठ अधिकारियों की स्थायी कमीशनिंग का मामला विचाराधीन है।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it