मेघालय

5 और 6 दिसंबर को असम, मेघालय सहित इन राज्यों में भारी वर्षा की संभावना

Kunti
30 Nov 2021 3:56 PM GMT
5 और 6 दिसंबर को असम, मेघालय सहित इन राज्यों में भारी वर्षा की संभावना
x
भारी वर्षा की संभावना

4 दिसंबर को ओडिशा में कुछ स्थानों पर, 5 दिसंबर को पश्चिम बंगाल में और 5 और 6 दिसंबर को असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर जैसे पूर्वोत्तर राज्यों में भारी से बहुत भारी वर्षा देखी जाएगी। दक्षिण थाईलैंड और उससे सटे अंडमान सागर के ऊपर बना एक कम दबाव का क्षेत्र आज 12 घंटे में अंडमान के ऊपर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है और 2 दिसंबर तक डिप्रेशन और 3 दिसंबर तक इंट्रासाइकिल तूफान में तेज होने की संभावना है। डॉ मृत्युंजय महापात्र, निदेशक जनरल मौसम विज्ञान-आईएमडी का कहना है कि हमने मछुआरों को 2 दिसंबर से समुद्र में न जाने की चेतावनी दी है। इसके अलावा, किसानों को सलाह दी जाती है कि वे उत्तर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में अपनी कटी हुई खड़ी फसलों को सुरक्षित रखें, क्योंकि इससे काफी नुकसान होगा। उत्तर भारत में मंगलवार, 30 नवंबर से मौसम का मिजाज बदलने की उम्मीद है। अरब सागर में एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है जिसके परिणामस्वरूप पश्चिमी विक्षोभ जा रहा है। मंगलवार को उत्तर भारत में प्रवेश करें। मौसम विज्ञानियों के अनुसार, इस क्षेत्र में हवाओं के साथ बारिश भी होगी जिससे वायु प्रदूषण और स्मॉग की स्थिति में कुछ राहत मिलेगी।

मध्य भारत और अन्य के लिए पूर्वानुमान
इसके अलावा, 30 नवंबर की रात से पहाड़ों पर बर्फबारी और उत्तर-पश्चिम और इससे सटे मध्य भारत में बारिश की संभावना है। आईएमडी ने एक बयान में कहा कि गुजरात, उत्तर में व्यापक बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। 30 नवंबर से 2 दिसंबर तक महाराष्ट्र और दक्षिण-पश्चिम मध्य प्रदेश और दक्षिण राजस्थान के आसपास के क्षेत्र में बारिश होगी।
देश के पश्चिमी तट के लिए पूर्वानुमान
गुजरात में 1-2 दिसंबर को भारी से बहुत भारी बारिश की भी संभावना है। 1 दिसंबर के लिए आनंद, भरूच, नवसारी, वलसाड, अमरेली और भावनगर के लिए ऑरेंज अलर्ट और 2 दिसंबर के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके साथ ही मछुआरों के लिए 5 दिन की चेतावनी भी जारी की गई है।
दक्षिण भारतीय राज्यों के लिए पूर्वानुमानआईएमडी ने पश्चिमी विक्षोभ के कारण 30 नवंबर से 2 दिसंबर तक ओडिशा और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश की भी भविष्यवाणी की है। मौसम विज्ञानी आरके जेनामणि ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण 1 दिसंबर से 2 दिसंबर की रात तक गुजरात, कोंकण और मध्य महाराष्ट्र में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है।
आईएमडी ने तमिलनाडु, पुडुचेरी में भी भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। इस अवधि के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा के साथ केरल और माहे में भी भारी बारिश हो सकती है। डिप्रेशन के चलते अगले कुछ दिनों में दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश समेत उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है। कुल मिलाकर आने वाले कुछ दिनों में मौसम में कई बदलाव देखने को मिलेंगे।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it