मणिपुर

8 लाख तक का ईनाम! पड़ोसी देश ने भारतीय सेना के काफिले पर हमला करने वाले आतंकियों के खिलाफ छेड़ा जंग

Gulabi
15 Jan 2022 9:31 AM GMT
8 लाख तक का ईनाम! पड़ोसी देश ने भारतीय सेना के काफिले पर हमला करने वाले आतंकियों के खिलाफ छेड़ा जंग
x
भारतीय सेना के काफिले पर हमला करने वाले आतंकियों के खिलाफ छेड़ा जंग
इंफाल। पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में भारतीय सेना (Indian Army) के काफिले पर हमला करने वाले आतंकियों के लिए खिलाफ म्यांमार की सेना (Myanmar army) ने एक्शन शुरू कर दिया है। पीएलए (PLA) और एमएनपीएफ (MNPF) के विद्रोहियों ने पिछले साल 13 नवंबर, 2021 को मणिपुर के चुराचांदपुर जिले में सेना के काफिले पर आईईडी विस्फोटकों से हमला किया था।
बता दें कि इस हमले में असम राइफल्स के कमांडिंग अफसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी (Colonel Viplav Tripathi), उनकी पत्नी और बेटे तथा चार सैनिकों सहित सात लोगों की मौत हुई थी। यह हमला भारत- म्यामांर बॉर्डर के नजदीक किया गया था। जिसके बाद सभी विद्रोही म्यांमार भाग गए थे।
सूत्रों के मानें तो म्यांमार (Myanmar) की सेना ने अपनी धरती पर भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल आतंकियों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, असम राइफल्स (Assam Rifles) के कर्नल और उनके परिवार की हत्या में शामिल आतंकवादी समूह पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) आदि के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए भारतीय एजेंसियां ​​म्यांमार की सेना के संपर्क में हैं। म्यांमार ने हाल में 5 विद्रोहियों को भारतीय एजेंसियों को सौंपा है।
बता दें कि इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) भी कर रही है। NIA ने इस हमले में शामिल विद्रोहियों से जुड़ी जानकारी देने वालों को चार से आठ लाख रुपए का ईनाम देने का ऐलान किया हुआ है। इस हमले में शामिल 10 विद्रोही कथित तौर पर प्रतिबंधित पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) और मणिपुर नागा पीपुल्स फ्रंट (MNPF) के हैं।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it