मणिपुर

मणिपुर विधानसभा चुनाव: 1 बजे तक 33 फीसद हुआ मतदान, कीथलमनबी में कुछ समर्थकों ने तोड़ी ईवीएम

Admin Delhi 1
28 Feb 2022 8:35 AM GMT
मणिपुर विधानसभा चुनाव: 1 बजे तक 33 फीसद हुआ मतदान, कीथलमनबी में कुछ समर्थकों ने तोड़ी ईवीएम
x

मणिपुर विधानसभा चुनाव (Manipur Election 2022) का पहला चरण (First Phase) आज शुरू हो गया है। आज इंफाल पूर्व, इंफाल पश्चिम, चुराचांदपुर, बिष्णुपुर और कांगपोकपी समेत पांच जिलों के 38 निर्वाचन क्षेत्रों में वोटिंग हो रही है। वहीं चुनाव की शुरुआत में ही मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं की लंबी कतारें नजर आ रहीं हैं। गौरतलब है कि पहले चरण में 15 महिलाओं समेत कुल 173 उम्मीदवार इस चुनाव मैदान में अपनी किस्मत अजमा रहे हैं। वहीं आज वोटिंग शुरू होते ही मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह और डिप्टी सीएम एवं उरीपोक से एनपीपी उम्मीदवार युमनाम जायकुमार सिंह ने वोट डालकर जीत का दावा किया है। चुनाव आयोग के अनुसार पहले चरण में सुबह 1 बजे तक 33 फीसद मतदान दर्ज किया गया है। कीथलमनबी में तोड़ी गई ईवीएम, मतदान हुआ बाधित. मणिपुर के मुख्य चुनाव अधिकारी राजेश अग्रवाल ने बताया कि कीथलमनबी में कुछ समर्थकों और राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों ने मतदान को बाधित किया है और ईवीएम मशीन को तोड़ा गया है। इसके कारण चुनाव प्रक्रिया में देरी हुई है। अधिकारी के अनुसार आयोग जांच कर रहा है और इसपर विचार किया जा रहा है कि आज यहां मतदान जारी रखना है या फिर से मतदान कराया जाएगा।

सीएम बीरेन सिंह बोले-38 में से 30 सीटें जीतेंगे : हिंगांग से सीएम और बीजेपी उम्मीदवार एन बीरेन सिंह इम्फाल के श्रीवन हाई स्कूल में वोट डालने पहुंचे। वोटिंग के बाद उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद कर रहा हूं कि मेरे निर्वाचन क्षेत्र के 75% लोग बीजेपी और मुझे वोट देंगे। बीजेपी पहले चरण में 38 में से कम से कम 30 सीटों की उम्मीद कर रही है। इस दौरान उन्होंने सभी लोगों से वोट डालने की अपील भी की, बीरेन ने कहा- मैं अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के साथ-साथ अन्य मतदाताओं से अनुरोध करता हूं कि वे अपना बहुमूल्य वोट दें और संविधान द्वारा दी गई लोकतांत्रिक शक्ति का उपयोग करें। वोटिंग से पहले पूजा करने पहुंचे सीएम बीरेन. राज्यपाल ने भी डाला वोट, लोगों से की वोट डालने की अपील.

मणिपुर के राज्यपाल ला गणेशन ने भी इम्फाल में तम्फासना गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में वोट किया। वोट डालने के बाद उन्होंने कहा कि, "मैं मणिपुर के सभी लोगों से अपील करता हूं कि वे अपने मताधिकार का प्रयोग करें क्योंकि हमारे देश में लोकतंत्र है और लोकतंत्र की निशानी चुनाव है।" वोटिंग में जमकर हिस्सा ले रहे लोग, कोरोना गाईडलाइन का हो रहा पालन मणिपुर चुनाव के पहले फेज की वोटिंग की शुरूआत में ही लोग बढ़चढ़कर हिस्सा लेते दिखाई दे रहें हैं। इंफाल में तम्फासन गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में अभी से ही लम्बी कतारें दिखाई दे रहीं हैं। वहीं मतदान केंद्रों पर कोरोना गाईडलाइन का भी अच्छे से पालन होता दिखाई दे रहा है। बता दें कि इस बार सीएम एन बीरेन सिंह हिंगांग से चुनाव लड़ रहे हैं। इसी के साथ सिंगजामेई से स्पीकर वाई खेमचंद सिंह, उरीपोक से डिप्टी सीएम युमनाम जायकुमार सिंह और नंबोल से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एन लोकेश सिंह अपनी किस्मत अजमा रहें हैं। ये सभी हाट सीट गिनी जाती हैं जिसपर सभी की निगाहें टिकी होंगी। वहीं पीठासीन अधिकारी डा सैयद अहमद ने बताया कि चुनाव के पहले चरण की तैयारी पूरी हो गई है। उन्होंने कहा कि असम और मणिपुर में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद हैं और इस बार सुचारू मतदान की उम्मीद है।


चुनाव आयोग के अनुसार इस चरण के सभी उम्मीदवारों में से 39 उम्मीदवारों का आपराधिक इतिहास है। भाजपा ने सभी 38 सीटों पर अपने उम्मीदावर उतारे हैं तो वहीं कांग्रेस 35 सीटों पर ही चुनाव लड़ रही है। इस बार जेडीयू भी अपना दमखम दिखाने मैदान में उतरी है और उसने 28 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं। मणिपुर के मुख्य चुनाव अधिकारी राजेश अग्रवाल ने बताया कि इस बार पहले चरण में 5,80,607 पुरुष, 6,28,657 महिला और 175 ट्रांसजेंडर मतदाता समेत कुल 12,09,439 मतदाता वोट करेंगे। राज्य में इस चरण के लिए 1,721 मतदान केंद्र बनाए गएं हैं। वोटिंग शुरू हो चुकी है जो शाम चार बजे तक चलेगी।बता दें कि 60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा के लिए दो चरणों में वोटिंग होनी है। पहले चरण में 38 सीटों पर मतदान होगा जबकि दूसरे चरण में 22 सीटों पर मतदान होगा। 5 मार्च को दूसरे चरण के लिए वोटिंग होगी। गौरतलब है कि बीजेपी ने पिछली बार मणिपुर में नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी), नागा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के समर्थन से सरकार बनाई थी।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta