मध्य प्रदेश

उज्जैन : आधी रात को खुलेंगे नागचंद्रेश्वर मंदिर के कपाट, पूजा से होगी शुरुआत

Bhumika Sahu
1 Aug 2022 9:07 AM GMT
उज्जैन : आधी रात को खुलेंगे नागचंद्रेश्वर मंदिर के कपाट, पूजा से होगी शुरुआत
x
पूजा से होगी शुरुआत

उज्जैन, 1 अगस्त: धार्मिक नगरी उज्जैन स्थित भगवान नागचंद्रेश्वर का मंदिर बाबा महाकालेश्वर मंदिर के ठीक ऊपर स्थित है। इस मंदिर के पट साल में एक बार नाग पंचमी के दिन खोले जाते हैं। वहीं इस बार नाग पंचमी का पर्व 2 अगस्त को आ रहा है, जहां 1 अगस्त की मध्य रात्रि 12 बजे मंदिर के पट खोल दिए जाएंगे, जो 2 अगस्त की मध्य रात्रि 12 बजे तक खुले रहेंगे। वहीं इसके बाद विधि-विधान के साथ मंदिर के पट साल भर के लिए बंद कर दिए जाएंगे। ऐसी मान्यता है कि, इस मंदिर में भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन करने से सभी कष्ट दूर होते हैं, और सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है।

बड़ी संख्या में भक्त दर्शन करते हैं

मध्य प्रदेश में कई सारे धर्मस्थल ऐसे भी हैं, जो बेहद प्राचीन हैं, और साथ ही साथ यह अपने आप में कई रहस्य समेटे हुए हैं। प्रदेश के धार्मिक नगरी कहीं जाने वाले शहर उज्जैन की यदि बात करें तो यहां विश्व प्रसिद्ध बाबा महाकाल का मंदिर है, जो 12 ज्योतिर्लिंग में से एक है। साथ ही इस मंदिर के ठीक ऊपर भगवान नागचंद्रेश्वर विराजमान हैं, जहां साल में सिर्फ एक बार इस मंदिर के पट खुलते हैं। नाग पंचमी पर खुलने वाले मंदिर के पट विधि विधान के साथ खोले जाते हैं। मंदिर में विराजमान भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन करने श्रद्धालु दूर-दूर से धार्मिक नगरी उज्जैन पहुंचते हैं।



Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta