मध्य प्रदेश

10 साल की नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले को दोहरा आजीवन कारावास की मिली सजा

Kunti Dhruw
1 April 2022 9:54 AM GMT
10 साल की नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले को दोहरा आजीवन कारावास की मिली सजा
x
सीहोर कोर्ट ने 10 साल की नाबालिग बालिका को हवस का शिकार बनाकर जान से मारने की नीयत से 40 फीट कुंए में फेंकने वाले आरोपी को दोहरे आजीवन काल के कारावास की सजा सुनाई गई है।

सीहोर कोर्ट ने 10 साल की नाबालिग बालिका को हवस का शिकार बनाकर जान से मारने की नीयत से 40 फीट कुंए में फेंकने वाले आरोपी को दोहरे आजीवन काल के कारावास की सजा सुनाई गई है। साथ ही दोषी को 11 हजार रुपये के अर्थदंड दंडित किया गया है।

मामले में जानकारी देते हुए जिला न्यायालय के एडीपीओ केदार कौरव ने बताया कि जिले के इछावर थाना अंतर्गत 14 जनवरी 2022 को घटना घटित हुई थी। ग्राम दुदलई का आरोपी रमेश चंद्र मोगिया पिता रामसिंह मोगिया (30) बालिका को खेत में तीतर दिखाने के बहाने ले गया था और उसके साथ दुष्कर्म किया था। उसके बाद बालिका को जान से मारने की नीयत से इसलिए फैंक दिया कि वह घटना अपने परिजनों को ना बता पाए। इस मामले को फास्ट ट्रैक में चलाते हुए लगभग ढाई महीने में फैसला आया है। जिसमें आरोपी को दोषी करार देते हुए सजा और 11 हजार के अर्थदंड से दंडित किया है।
न्यायालय ने की यह विशेष टिप्पणी
न्यायालय ने निर्णय में अभियुक्त को दोषसिध्द करते हुए विशेष टिप्पणी की है कि, दोषी पीड़िता के भले ही दूर का रिश्तेदार था, पर उसका नैतिक, सामाजिक, धार्मिक कर्तव्य भी था कि वह पीड़िता की धर्म, मर्यादा, संस्कार और नैतिकता के साथ ठीक उसी प्रकार देखभाल करे, जैसे वह उसकी सगी पुत्री हो। यह स्थिति और अधिक भयावक एवं शर्मनाक हो जाती है जब दोषी एक 10 वर्षीय अबोध बालिका की अस्मत के साथ खिलवाड़ करे और बलात्संग जैसे अपराध को उस वक्त कारित करे। जब उसकी उम्र अपने भाई बहन और दोस्तों के साथ खेलने की हो। इस मामले में मुख्यमंत्री द्वारा घटना का संज्ञान लिया गया ओर मामले की गंभीरता को देखते हुए अविलंब जांच कर शीघ्र विचारण कराए जाने हेतु सक्षम अधिकारियों को निर्देश किया गया था।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta