कर्नाटक

सीएम बोम्मई ने परिजनों को दिया 25 लाख का मुआवजा, 'यूक्रेन से छात्र के शव को वापस लाना सबसे बड़ी प्राथमिकता'

Kunti Dhruw
5 March 2022 6:32 PM GMT
सीएम बोम्मई ने परिजनों को दिया 25 लाख का मुआवजा, यूक्रेन से छात्र के शव को वापस लाना सबसे बड़ी प्राथमिकता
x
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शनिवार को कहा कि युद्ध प्रभावित यूक्रेन से एक छात्र के शव को वापस लाना और अन्य छात्रों की निकासी सरकार की प्राथमिकता है.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शनिवार को कहा कि युद्ध प्रभावित यूक्रेन से एक छात्र के शव को वापस लाना और अन्य छात्रों की निकासी सरकार की प्राथमिकता है. मुख्यमंत्री ने यहां मेडिकल छात्र नवीन के शोक संतप्त परिवार से मुलाकात की और मुआवजे के रूप में 25 लाख रुपये का एक चेक सौंपा तथा उनके भाई को नौकरी का आश्वासन दिया. नवीन का भाई पीएचडी कर रहा है. बोम्मई ने कहा, ''हमारा पहला कर्तव्य उनके (नवीन) शव को घर वापस लाना है, हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं. मैं लगातार विदेश मंत्री एस जयशंकर, अधिकारियों और यूक्रेन के राजदूत के संपर्क में हूं.''

नवीन के माता-पिता से मिलने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए बोम्मई ने विदेश मंत्री जयशंकर के बयान का हवाला दिया और कहा कि शव सुरक्षित है और इसे शवगृह में रखा गया है तथा लगातार बमबारी के कारण इसे अभी वापस नहीं लाया जा सकता है.
युद्धग्रस्त यूक्रेन से अब तक 366 लोग घर लौट चुके
मुख्यमंत्री ने कहा, ''उन्होंने (जयशंकर) कहा है, क्षेत्र में बमबारी कम होने पर परिवहन व्यवस्था की जाएगी. चूंकि कुछ हिस्सों में संघर्ष विराम है, इसलिए एक अवसर हो सकता है. मैं बेंगलुरू पहुंचते ही उनसे बात करूंगा और शव को जल्द से जल्द वापस लाए जाने के लिए प्रयास करूंगा…यह वहां के हालात पर भी निर्भर करेगा.''
कर्नाटक के हावेरी जिले के निवासी 21 वर्षीय नवीन की पिछले सप्ताह रूसी हमले में मौत हो गई थी. युद्ध के शीघ्र समाप्त होने की आशा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कई छात्र खारकीव से लगभग 30 किलोमीटर दूर सुरक्षित स्थान पर चले गए हैं और परिवहन की व्यवस्था की गई है. हालांकि, कुछ छात्र शहर में बंकरों में फंसे हुए थे और उन्हें निकालने के प्रयास जारी थे. नोडल अधिकारी और कर्नाटक राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के आयुक्त मनोज राजन के मुताबिक युद्धग्रस्त यूक्रेन से अब तक 366 लोग घर लौट चुके हैं.
यूक्रेन में 351 आम नागरिकों की मौत- संयुक्त राष्ट्र
वहीं, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय ने शनिवार को रूसी हमले के बाद से यूक्रेन में 351 आम नागरिकों की मौत की पुष्टि की है. जिनेवा स्थित कार्यालय ने कहा कि 24 फरवरी की मध्यरात्रि से 707 अन्य आम नागरिक घायल हुए हैं. संरा मानवाधिकार कार्यालय ने इन आंकड़ों के लिए पुष्ट रिपोर्ट का उपयोग किया है. हालांकि, यूक्रेन के अधिकारियों ने हताहतों की इससे कहीं अधिक संख्या पेश की है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta