झारखंड

झारखंड में बीते 17 दिन बाद कोरोना संक्रमण की दर में आई कमी, 24 घंटों में 6 की मौत

Renuka Sahu
10 Jan 2022 4:40 AM GMT
झारखंड में बीते 17 दिन बाद कोरोना संक्रमण की दर में आई कमी, 24 घंटों में 6 की मौत
x

फाइल फोटो

झारखंड में बीते 17 दिनों से कोरोना संक्रमण में हो रही वृद्धि पर थोड़ा ब्रेक लगा है। रविवार को 5.93 प्रतिशत की दर से राज्य में 3444 मरीज मिले हैं।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। झारखंड में बीते 17 दिनों से कोरोना संक्रमण में हो रही वृद्धि पर थोड़ा ब्रेक लगा है। रविवार को 5.93 प्रतिशत की दर से राज्य में 3444 मरीज मिले हैं। जबकि, रांची में 9.12 प्रतिशत की दर से 1143 संक्रमित मिले हैं। शनिवार के 6.98 प्रतिशत की तुलना में रविवार को राज्य के संक्रमण दर में जहां 1.05 प्रतिशत की कमी आई है। वहीं, रांची में 13.57 प्रतिशत की तुलना में 4.45 प्रतिशत की कमी आई है। हलांकि मौत की संख्या बढ़ी है। शनिवार को राज्य में जहां तीन लोगों की मौत हुई थी वहीं रविवार को छह लोगों की मौत हुई है। चार मौत पूर्वी सिंहभूम में हुई जबकि कोडरमा व गोड्डा 1-1 की जान गई।

8 जिलों में 100 से अधिक मरीज मिले
राज्य के 8 जिलों में जहां रविवार को 100 से अधिक मरीज मिले वहीं चार जिलों में मरीजों की संख्या 20 से कम रही। शनिवार को 11 जिलों में 100 से अधिक और 2 जिलों में 20 से कम मरीज मिले थे। रविवार को रांची में 1143 , पूर्वी सिंहभूम में 542, रामगढ़ में 232, धनबाद में 199, बोकारो में 186, पश्चिमी सिंहभूम में 140, देवघर में135 व पलामू में 129 मरीज मिले हैं।
सीएम आवास में दूसरे दिन 16 संक्रमित मिले
सीएम आवास के 16 कर्मचारी रविवार को पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें ड्राइवर, माली, पियोन व कैंटीन स्टाफ शामिल हैं। संक्रमितों के मिलने के बाद मुख्यमंत्री आवास में विजिटर्स के आने पर रोक लगा दी गई है। शनिवार को भी मुख्यमंत्री की पत्नी और बच्चे समेत पांच पॉजिटिव पाए गए थे। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन निगेटिव पाए गए थे।
रिम्स समेत झारखंड के बड़े अस्पताल संक्रमण की चपेट में
कोरोना का संक्रमण झारखंड के सभी बड़े अस्पतालों तक पहुंच गया है। इन अस्पतालों में डॉक्टर समेत स्वास्थ्यकर्मी तेजी से संक्रमित हो रहे हैं। रांची के रिम्स के अलावा धनबाद, जमशेदपुर, हजारीबाग और दुमका के मेडिकल कालेजों के डॉक्टरों और अन्य स्वास्थयकर्मियों में तेजी से संक्रमण फैला है।
राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स के तो अधिकतर कर्मी संक्रमण की चपेट में हैं। प्रतिदिन हो रही जांच में रिम्स के 100 से अधिक लोग पॉजिटिव मिले रहे हैं। इनमें मरीजों के अलावा सीनियर डॉक्टर, जूनियर डॉक्टर, नर्स और अन्य स्वास्थ्यकर्मी शामिल है। हर दिन आने वाली रिपोर्ट में कम से कम 5 से 7 डॉक्टर पॉजिटिव मिल रहे हैं। इसके अलावा अस्पताल में अध्ययनरत एमबीबीएस के छात्र बड़ी संख्या में पॉजिटिव मिल चुके हैं। रिम्स में पिछले सात दिनों में 630 से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं, इनमें 200 के करीब सिर्फ स्वास्थ्यकर्मी हैं। यहां इलाजरत मरीजों में भी संक्रमण की पुष्टि हो रही है।
धनबाद के शहीद निर्मल महतो मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (पीएमसीएच) में छह चिकित्सक संक्रमित हैं। दुमका के फूलो-झानो मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में 3 डॉक्टर समेत 20 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हैं। हजारीबाग के शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अब तक 10 डॉक्टर और दो हेल्थ वर्कर कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। पूर्वी सिंहभूम में 200 से ज्यादा डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। इनमें एमजीएम जमशेदपुर में 12 डॉक्टर संक्रमित हैं, जबकि सदर अस्पताल जमशेदपुर में 5 डॉक्टर संक्रमित पाये गये हैं।
रिम्स में 5 जनवरी को 179 मरीज पॉजिटिव मिले थे
रिम्स के डॉ देवेश ने बताया कि रिम्स में मरीज मिलने का पिक गुजर चुका है। रिम्स में 5 जनवरी को पिक था, उस दिन 179 मरीज पॉजिटिव मिले थे। उन्होंने बताया कि अब 1 दिन में उतने मरीज रिम्स में शायद नहीं मिले हालांकि उन्होंने साथ ही कहा कि रांची जिला का पिक आना अभी बाकी है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta