झारखंड

रैयतों के अनिश्चिकालीन धरना 8वें दिन भी जारीः विधायक मथुरा महतो ने मांगों को बताया जायज

Shantanu Roy
5 Nov 2021 1:43 PM GMT
रैयतों के अनिश्चिकालीन धरना 8वें दिन भी जारीः विधायक मथुरा महतो ने मांगों को बताया जायज
x
जिला में भौरा 4 नंबर के ग्रामीणों का अनिश्चिकालीन धरना 8वें दिन भी जारी है. ग्रामीण, विस्थापित रैयतों ने अपनी विभिन्न मांग बिजली, मुआवजा, नियोजन और विस्थापन सड़क सहित अन्य मांगों को लेकर 4A पेच देवप्रभा आउटसोर्सिंग का काम ठप कर अनिश्चितकालीन धरना पर है.

जनता से रिश्ता। जिला में भौरा 4 नंबर के ग्रामीणों का अनिश्चिकालीन धरना 8वें दिन भी जारी है. ग्रामीण, विस्थापित रैयतों ने अपनी विभिन्न मांग बिजली, मुआवजा, नियोजन और विस्थापन सड़क सहित अन्य मांगों को लेकर 4A पेच देवप्रभा आउटसोर्सिंग का काम ठप कर अनिश्चितकालीन धरना पर है.

धरना के 8वें दिन आंदोलन को सर्मथन देने टुंडी विधायक मथुरा प्रसाद महतो पहुंचे. उन्होंने ग्रामीण रैयतों से मांगों की जानकारी ली. झरिया सीओ परमेश कुशवाहा भी मौके पर पहुच ग्रामीणों को आंदोलन समाप्त करने का आग्रह किया.
टुंडी विधायक मथुरा महतो ने कहा कि ग्रामीण रैयतों की मांग जायज है, ग्रामीणों को जमीन के बदले मुआवजा, नियोजन, बिजली, पानी की सुविधा बीसीसीएल को देनी चाहिए. अपनी मांग को लेकर पूर्व में आंदोलन करने पर वार्ता होने के बाद भी मांगों को पूरा नहीं करना वादाखिलाफी है. उन्होंने कहा कि कई बार बैठक होने के बावजूद भी टालमटोल की नीति अपनाए हुए हैं. उन्होंने कहा कि इन लोगों की मांगों पर तत्काल पहल करें और समस्या का समाधान करें.


झरिया सीओ परमेश कुशवाहा ने कहा कि बीसीसीएल प्रबंधन के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. हम लोग भी चाहते हैं कि जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान हो और यहां का काम सुचारु रुप से चल सके, लॉ एन आडर बना रहे. सीओ ने कहा कि पिछले आंदोलन के बाद भी बीसीसीएल ग्रामीणों के मांग को पूरा नहीं किया, जिस कारण ग्रामीण धरना दे रहे हैं. बीसीसीएल के स्थानीय लोगों से वार्ता के बाद भी मांग पूरा नहीं किया गया. अब उच्च स्तरीय वार्ता कर ग्रामीणों के मांग को बताया जाएगा, विधि व्यवस्था खराब हो रही है तो बीसीसीएल इसका जिम्मेदार है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta