झारखंड

SIT करेगी रांची हिंसा की जांच, इंटरनेट सेवा फिर बहाल, 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू, 2,500 पुलिस कर्मियों की तैनाती

Renuka Sahu
12 Jun 2022 3:18 AM GMT
SIT will investigate Ranchi violence, internet service restored, section 144 implemented in 12 police station areas, 2,500 police personnel deployed
x

फाइल फोटो 

झारखंड के रांची में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा में दो लोगों की मौत हो गई थी, जिसके मद्देनजर रांची के 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। झारखंड (Jharkhand) के रांची में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा (Ranchi Violence) में दो लोगों की मौत हो गई थी, जिसके मद्देनजर रांची के 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई. साथ ही इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई थी. वहीं अब इंटरनेट सेवाएं फिर से शुरू कर दी गई हैं. झारखंड पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि पूरे मामले की जांच के लिए एसआईटी (SIT) का गठन किया गया है. वहीं अन्य संवेदनशील जिलों में भी अतिरिक्त बल तैनात किया गया है. पुलिस ने कहा कि हम कानूनी प्रक्रियाओं का पालन कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि राजधानी में बड़े पैमाने पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती भी की गई है.

12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू

दरअसल बीजेपी नेता नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल की कथित विवादित टिप्पणी के विरोध में रांची में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हिंसा (Ranchi Violence) हो गई थी. उपद्रवियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस की कार्रवाई में घायल दो दर्जन लोगों में से देर रात दो लोगों की मौत हो गई. हिंसा के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव पैदा होगा. जिसके मद्देनजर रांची के 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई है और पूरे रांची जिले में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी. उन्होंने बताया कि राजधानी में बड़े पैमाने पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती भी की गई है.

हिंसा की जांच के लिए एसआईटी गठित

हालांकि पुलिस अधिकारियों के अनुसार इंटरनेट सेवा को फिर से बहाल कर दिया गया है, लेकिन रांची के 12 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू रहेगी. इसके साथ-साथ अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती भी की गई है. वहीं हिंसा की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी गई है. झारखंड पुलिस के प्रवक्ता एवं महानिरीक्षक (कार्रवाई) एवी होमकर ने बताया कि शुक्रवार रात से राजधानी में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रित एवं शांतिपूर्ण है. हालांकि, एहतियाती तौर पर शहर के 12 थाना क्षेत्रों में धारा-144 लागू कर उसका पालन कराया जा रहा है, ताकि हिंसा और उपद्रव से बचा जा सके.

2,500 पुलिस कर्मियों की तैनाती

उन्होंने बताया कि रांची के हिंसाग्रस्त मेन रोड क्षेत्र में त्वरित कार्रवाई बल (आरएएफ) की दो कंपनियां तैनात की गई हैं, जबकि आसापास के संवेदनशील इलाकों में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए आईजी (महानिरीक्षक) रैंक और डीआईजी (उपमहानिरीक्षक) रैंक के एक-एक अधिकारियों के अलावा एसपी (पुलिस अधीक्षक) रैंक के छह अधिकारियों और डीएसपी (पुलिस उपाधीक्षक) रैंक के सौ अधिकारियों सहित लगभग 2,500 पुलिस कर्मियों को भेजा गया है.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta