झारखंड

रांची पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का किया खुलासा, पलक झपकते गायब कर देते थे कार

Shantanu Roy
6 Nov 2021 10:20 AM GMT
रांची पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का किया खुलासा, पलक झपकते गायब कर देते थे कार
x
रांची पुलिस ने वाहन चोर गिरोह के एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो सिर्फ बोलेरो कारों की चोरी किया करता था. इस गिरोह के दो सदस्यों को रांची पुलिस ने चतरा जिले से गिरफ्तार किया है.

जनता से रिश्ता। रांची पुलिस ने वाहन चोर गिरोह के एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो सिर्फ बोलेरो कारों की चोरी किया करता था. इस गिरोह के दो सदस्यों को रांची पुलिस ने चतरा जिले से गिरफ्तार किया है.

रांची के बरियातू में हुई थी चोरी
रांची पुलिस के गिरफ्त में आए सरगना साेनू साव और अभिषेक यादव उर्फ पिंटू चतरा के टंडवा थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं. सानू साव ने पूछताछ में बताया कि उसने राजधानी रांची सहित अन्य जिलों से कई बोलेरो चोरी कर वे उसे बेच चुका है. रांची से तीन बोलेरो चोरी करने की बात भी उसने स्वीकार की है. चोरी के तीनों बोलेरो चतरा में खपाया गया था. कंडीशन के आधार पर बोलेरो की कीमत तय होती थी. एक बोलेरो के लिए 50 हजार से एक लाख रुपये तक मिलते थे. हाल में ही रांची के रिम्स अस्पताल के पास है एक बोलेरो चोरी हो गई थी. रांची पुलिस जब पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी तब उन्हें जानकारी मिली की पूरा गिरोह चतरा का है.
मामले की जांच के दौरान बरियातू थाना प्रभारी सपन महथा के निर्देश पर एक टीम छापेमारी करने टंडवा पहुंची. गिरफ्त में आए साेनू साव की निशानदेही पर पुलिस ने रिम्स से चाेरी की गई एक बाेलेराे भी चतरा से बरामद किया है. वहीं, चोरी हुए अन्य बोलेरो की बरामदगी में जुटी हुई है. पुलिस के अनुसार सोनू साव के गिराेह में कई सदस्य शामिल हैं जो रांची सहित अन्य जिलों में घूमघूम कर बोलेरो की रेकी करता है. रेकी करने के बाद पूरे प्लानिंग से बोलेरो उड़ता था. गिरोह के सदस्यों को पैसे का भुगतान कितने वाहन की चोरी उसने की है उस आधार पर देता था. यही नहीं गैंग में शामिल चोर ग्राहक की तलाश भी करते थे. इसके बदले अलग कमीशन मिलता था.
चोरी के वाहन खरीदने वाले पुलिस के टारगेट पर
पूछताछ में सोनू ने चोरी का बोलेरो खरीदने वाले कारोबारियों के भी नाम बताए हैं. बताया कि राजधानी से चोरी की सभी तीन बोलेरो उसी कारोबारी के हाथ बेचे गए है. इसके अलावा अन्य स्थानों से भी बोलेरो की जिसे किसी दूसरे कारोबारी को बेचा गया है. सोनू के बताए नाम के आधार पर पुलिस कारोबारी को ढूंढ़ रही है. पुलिस को उम्मीद है कि अगर कारोबारी पकड़ाता है तो चोरी करने वाला बड़े गैंग का फर्दाफाश हो सकता है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta