झारखंड

झारखंड के धनबाद को दहलाने की नक्सलियों की साजिश नाकाम, दो आईडी माइंस बरामद

Renuka Sahu
5 Feb 2022 6:24 AM GMT
झारखंड के धनबाद को दहलाने की नक्सलियों की साजिश नाकाम, दो आईडी माइंस बरामद
x

फाइल फोटो 

नक्सलियों ने झारखंड के धनबाद को दहलाने के साथ सीआरपीएफ की टीम को उड़ाने की बड़ी साजिश रची थी।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। नक्सलियों ने झारखंड के धनबाद को दहलाने के साथ सीआरपीएफ की टीम को उड़ाने की बड़ी साजिश रची थी। सुरक्षा बलों ने नक्सलियों की नापाक साजिश को इंटेलिडजेंस और सतर्कता की मदद से नाकाम कर दिया है। धनबाद में 10-10 किलो के दो आईइडी माइंस नक्सलियों द्वारा बिछाई थी। समय रहते धनबाद पुलिस को इसकी जानकारी मिल गयी। माइंस का पता लगाकर पुलिस ने सीआरपीएफ की मदद से दोनों को निष्क्रिय कर दिया गया है।

सुरक्षा बलों को कुछ स्थानीय लोगों द्वारा गुप्त जानकारी दी गई कि नक्सल प्रभावित तोपचांची थाना इलाके के गणेशपुर में बसापट से दूर दो आईडी माइंस मधुकट्टा की कच्ची सड़क पर प्लांट की गई है। सूचना की पुष्टि के लिए सीआरपीएफ और पुलिस ने साझा अभियान चलाया। अभियान में दोनो माइंस का पता लगा लिया गया। टेक्निकल टीम की मदद से दोनो माइंस को निकाला गया और पूरी सावधानी के साथ निष्क्रिय कर दिया। आईडी वाली ये दोनों माइंस मधुकट्टा की कच्ची सड़क पर दूरी पर बिछाई गई थीं। उनकी ताकत दस दस किलो थी।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, तोपचांची थाना‌ प्रभारी सुरेश मुंडा को मधुकट्टा में माइंस लगाए जाने की सूचना मिली। पुलिस की टीम और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 154 बटालियन ने सर्च अभियान चलाया। संयुक्त टीम ने दोनों माइंस को बरामद कर लिया। बाद में उन्हें निष्क्रिय कर दिया गया। झात हो कि नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए हाल ही में धनबाद जिले के पड़ोसी जिले गिरिडीह में मोबाइल टावर और बराकर पुल को बम लगाकर उड़ा दिया था। गिरिडीह पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कई उग्रवादियों को पकड़ा भी था।
बताते चलें कि झारखंड में इन दिनों नक्सलियों की गतिविधि काफी बढ़ गयी है। नक्सल प्रभावित इलाकों में इसे देखते हुए सुरक्षा कार्रवाई भी तेज कर दी गयी है। बुढ़मू थाना क्षेत्र स्थित साडम गांव में दो दिन पूर्व तालाब निर्माण में लगे 3 वाहनों को नक्सलियों ने जला दिया था। इस वारदात के पीछे टीपीसी के नक्सलियों का हाथ होना बताया गया। लेवी न मिलने से नाराज नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta