झारखंड

झारखंड की राजनीतिक में बढ़ी सरगर्मी, बोले हेमंत सोरेन- अग्नि परीक्षा से गुजरने को तैयार

Renuka Sahu
26 Aug 2022 1:14 AM GMT
Jharkhands political agitation increased, said Hemant Soren - ready to go through the ordeal
x

फाइल फोटो 

चुनाव आयोग का मंतव्य राजभवन आने की सूचना मिलने के साथ ही गुरुवार को झारखंड की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई। र

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। चुनाव आयोग का मंतव्य राजभवन आने की सूचना मिलने के साथ ही गुरुवार को झारखंड की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई। राजभवन के बाद मुख्यमंत्री कार्यालय इसके केंद्रबिंदु में है। फैसला आने की सूचना के बाद सरकार के मंत्री-विधायकों का काफिला एक-एक कर सीएमओ पहुंचने लगा। कई मंत्री-विधायक जो अपने क्षेत्र जा रहे थे, वे बीच रास्ते से लौट कर रांची आ गए। देर शाम तक सीएमओ में मंत्री व सत्ताधारी विधायकों का आना और बैठकों का दौर जारी रहा।

राजभवन के पास चुनाव आयोग का फैसला आने की सूचना मिलने के बाद सबसे पहले मंत्री मिथिलेश ठाकुर मुख्यमंत्री आवास पहुंचे। एक-एक कर शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो, कल्याण मंत्री चंपई सोरेन, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, सांसद विजय हांसदा, सांसद महुआ माजी, विधायक मथुरा प्रसाद महतो समेत अन्य विधायक भी पहुंचे। महाधिवक्ता राजीव रंजन को भी सीएमओ बुलाया गया।
सभी ने आने वाले फैसले को देखते हुए उससे संबंधित कानूनी बारीकियों को जाना। हालांकि कोई भी मंत्री-विधायक खुलकर इस विषय में कहने से बचते रहे। सभी एक बात कहते रहे कि राजभवन से चुनाव आयोग के फैसले की आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है। जो कुछ सूचना मिल रही है वह मीडिया-सोशल मीडिया के माध्यम से मिल रही है।
उधर, झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों का हुजूम गाजे-बाजे के साथ सीएमओ पहुंचा। पुलिसकर्मियों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात कर आभार जताया। झारखंड कैबिनेट ने एक दिन पूर्व बुधवार को ही पुलिसकर्मियों का एक महीने के वेतन के समान क्षतिपूर्ति अवकाश की स्वीकृति दी है।
हमेशा आग से खेलता रहा हूं
चुनाव आयोग के फैसले की सूचना के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पत्रकारों से कहा कि कहां कोई फैसला आया है। उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है। अग्नि परीक्षा से गुजरने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वे हमेशा आग से खेलते रहे हैं। सीएमओ में जुटी भीड़ को दिखाते हुए उन्होंने कहा कि जनता उनके साथ है।
जनता मेरे साथ: मुख्यमंत्री
चुनाव आयोग के फैसले की सूचना के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पत्रकारों से कहा कि कहां कोई फैसला आया है। उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है। पत्रकारों द्वारा पूछे गये अग्नि परीक्षा से गुजरने के सवाल पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि वे हमेशा आग से खेलते रहे हैं। मुख्यमंत्री के आवासीय कार्यालय में जुटी भीड़ को दिखाते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड की जनता उनके साथ है और यही मेरी ताकत है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta