झारखंड

झारखंड: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धनबाद पार्टी कार्यालय का ताला तोड़ा, हाईकोर्ट के आदेश के बाद सील किया गया था दफ्तर

Renuka Sahu
15 Feb 2022 4:19 AM GMT
झारखंड: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धनबाद पार्टी कार्यालय का ताला तोड़ा, हाईकोर्ट के आदेश के बाद सील किया गया था दफ्तर
x

फाइल फोटो 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने सोमवार को धनबाद शहर में एक पार्टी कार्यालय का ताला कथित रूप से तोड़ दिया, जिसे 2011 में उच्च न्यायालय के आदेश पर सील कर दिया गया था।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने सोमवार को धनबाद शहर में एक पार्टी कार्यालय का ताला कथित रूप से तोड़ दिया, जिसे 2011 में उच्च न्यायालय के आदेश पर सील कर दिया गया था। पुलिस ने यह जानकारी दी।

यह घटना तब हुई जब धनबाद जिले के पार्टी प्रभारी और स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता एक आधिकारिक बैठक करने के लिए सर्किट हाउस पहुंचे। पुलिस ने कहा कि कांग्रेस के कुछ नेता कार्यकर्ताओं के साथ लुबी सर्कुलर रोड स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे और सील तोड़कर इमारत में प्रवेश किया।
घटना के बारे में पूछे जाने पर गुप्ता ने कहा, "पार्टी अदालत के आदेशों का बहुत सम्मान करती है। मैं आदेश (पार्टी कार्यालय को सील करने के बारे में) को पढ़ने के बाद ही उचित टिप्पणी करूंगा।" उन्होंने यह भी कहा कि लोगों की भावना और कानून-दोनों का समान रूप से सम्मान किया जाना चाहिए।
वहीं कांग्रेस के धनबाद जिलाध्यक्ष ब्रजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि उन्हें घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं है। जिला बोर्ड के अध्यक्ष रॉबिन गोराई ने इस मुद्दे पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।
जिला बोर्ड के साथ विवाद के बाद उच्च न्यायालय के आदेश पर अप्रैल 2011 में पार्टी कार्यालय को सील कर दिया गया था। पता चला है कि जमीन जिला बोर्ड की है और पार्टी ने इसे 30 साल के लिए लीज पर लिया था जो कई साल पहले खत्म हो गया था। इस संबंध में झारखंड उच्च न्यायालय में मामला चल रहा है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta