झारखंड

कुएं में कूदकर पति-पत्नी ने दे दी जान

Rani Sahu
16 May 2022 5:03 PM GMT
कुएं में कूदकर पति-पत्नी ने दे दी जान
x
देवघर के सारठ पथरड्डा ओपी थाना क्षेत्र के करैहिया (शाही टोला) निवासी 45 वर्षीय दिलीप सिंह और उसकी पत्नी मुन्नी देवी ने कुएं में कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली

देवघर के सारठ पथरड्डा ओपी थाना क्षेत्र के करैहिया (शाही टोला) निवासी 45 वर्षीय दिलीप सिंह और उसकी पत्नी मुन्नी देवी ने कुएं में कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। बीते रविवार की रात्रि में घटी घटना के सम्बंध में ग्रामीणों ने बताया कि पति-पत्नी के बीच अक्सर आपसी कलह होते रहता था। उसी क्रम में रविवार को घर बनाने का सीमेंट खत्म हो जाने व मजदूरों को पैसा देने को लेकर दोनों के बीच कहा सुनी हुई थी। उसके बाद पत्नी खाना बनाने लगी उसी दौरान दोनों के बीच झंझट इतना बढ़ गया कि पत्नी ने गुस्से में घर से निकलकर लगभग आधा किलोमीटर दूर बहियार में स्थित सिंचाई कूप में जाकर कूद गई। वहीं पति को लगा कि रोज की तरह गुस्साकर इधर-उधर ही गई होगी। लेकिन इसी बीच किसी ने बताया कि उनकी पत्नी बहियार के कुएं की तरफ गई है।

इसके बाद पति भी पीछे से जाकर देखा तो कुएं के पास उसका चप्पल पड़ा था और फिर पत्नी को बचाने के लिए पति भी कुएं में कूद गया। वहीं उक्त सिंचाई कूप में लोहे की कड़ी या पकड़ने का कोई सहारा नहीं रहने के कारण दोनों की पानी में डूबने से मौत हो गई। उसके बाद अन्य ग्रामीणों को घटना की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुंचे और दोनों की लाश को कुएं में तैरता देख घटना की जानकारी पथरड्डा पुलिस को दिया। फिर मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दोनों दम्पति के शव को कुएं से बाहर निकाला।
इसी बीच किसी ने घटना की जानकारी पुलिस को दिया। थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार पुलिस अधिकारी व जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे थे। वहीं घटना के बाद मृतका के मायके वालों को भी घटना की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचे। मृतक महिला के मायके वालों ने शुरुआत में हत्या का आरोप लगाया। लेकिन, ग्रामीण व मृतक दम्पति के पुत्र द्वारा आत्महत्या बताने के बाद मानने को तैयार हुआ। उसके बाद पुलिस ने दोनों शव को कब्जे में लेकर पंचनामा करते हुए पोस्टमार्टम के लिए देवघर भेजने की बात कही। जबकि मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।
मृतक दम्पति अपने पीछे दो पुत्र 15 वर्षीय भूपेन सिंह व 13 वर्षीय रंधीर सिंह को छोड़ गया है। बताया गया कि बड़ा पुत्र मामा घर में ही रहता था जबकि छोटा पुत्र मां पिता के साथ रहता था। घटना के समय छोटा पुत्र घर के बाहर गांव मे अपने पुराने घर गया था। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पूर्व विधायक उदय शंकर सिंह उर्फ चुन्ना सिंह, जीप प्रत्याशी प्रमोद सिंह, अब्दुल मतीन, रवींद्रनाथ तिवारी, मुखिया प्रत्याशी महेंद्र सिंह, नरेश यादव, समेत दर्जनों ग्रामीण पहुंच कर घटना के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए पीड़ित परिवार को हर सम्भव सहयोग करने का आश्वासन दिया। पूर्व विधायक ने मौके पर मौजूद थाना प्रभारी से कानूनी कार्रवाई को लेकर कई बिन्दुओं पर विचार-विमर्श भी किया। वहीं परिजनों को ढांढस भी बंधाया।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta