झारखंड

भाजपा नेता पर FIR दर्ज, पांच लाख रंगदारी और मारपीट का आरोप

Rani Sahu
26 May 2022 9:50 AM GMT
भाजपा नेता पर FIR दर्ज, पांच लाख रंगदारी और मारपीट का आरोप
x
जमशेदपुर में भाजपा पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय सिंह के भाई निर्भय सिंह पर मारपीट कर 5 लाख रंगदारी मांगने का आरोप लगा है

Jamshedpur: Five lakh extortion: जमशेदपुर में भाजपा पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय सिंह के भाई निर्भय सिंह पर मारपीट कर 5 लाख रंगदारी मांगने का आरोप लगा है. काशीडीह लाइन नंबर 9 के रहने वाले चंद्रशेखर सिंह से 5 लाख रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप भाजपा नेता निर्भय सिंह पर लगाया गया है. , चंद्रशेखर सिंह का आरोप है कि रंगदारी नहीं देने पर निर्भय सिंह आए और उनकी इमारत में चल रहे गेट के निर्माण को ठप करा दिया. वहीं लेबर को भगा दिया और गाली गलौज करते हुए मेरे परिवार के लोगों के साथ मारपीट भी की.

परिजनों ने मारपीट का आरोप लगाया
मारपीट की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है. चंद्रशेखर सिंह की मां पार्वती सिंह वहां मौजूद थी और उनके साथ भी मारपीट की गई. चंद्रशेखर सिंह का आरोप है कि मां पार्वती सिंह को मारपीट कर घायल कर दिया गया है. उनके सर और सीने में काफी चोटों के निशान हैं. चंद्रशेखर सिंह ने अपनी मां को इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया है.
निर्भय सिंह पर रंगदारी का आरोप
इस मामले में उसने आगे बताया कि उन्होंने अपनी जमीन पर बिल्डर से सहयोग कर फ्लैट का निर्माण करवाया जा रहा है. उनके अपने 5 फ्लैट हैं, जिनमें से 3 फ्लैट बिक गए हैं, दो फ्लैट उनके अपने हैं, इनमें से एक फ्लैट में वह रहते हैं. उन्होंने कहा कि जब फ्लैट का निर्माण हो रहा था तो निर्भय सिंह के साथी दिलीप सिंह आए थे, उन्होंने रंगदारी की मांग की थी और हमारे साथ मारपीट भी की थी.
एफआईआर के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं
इस मामले में चंद शेखर सिंह ने साकची थाने में शिकायत दर्ज करवाई है. शिकायत के बाद भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई. शेखर सिंह का आरोप है कि जब गेट का काम हो रहा था तो निर्भय सिंह पहुंचे और उन्होंने मारपीट की थी. उन्होंने बताया कि ऑनलाइन एफआईआर भी दर्ज की है, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला है. पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है. चंद्रशेखर ने बताया कि निर्भय सिंह का कहना है कि या तो 5 लाख रुपए दो वरना दोनों फ्लैट उनको सौंप दो.
लगाया गलत आरोप
वहीं इस मामले में भाजपा नेता निर्भय सिंह ने बताया कि गलत आरोप लगाकर मुझे फंसाया जा रहा है बिल्डर के साथ मिलकर परिवार के लोग मुझ पर दबाव बनाना चाहते हैं वहीं दूसरी तरफ पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta