झारखंड

धारदार हथियार से दंपत्ति की हत्या, खून से लथपथ मिला शव

Rani Sahu
20 May 2022 9:42 AM GMT
धारदार हथियार से दंपत्ति की हत्या, खून से लथपथ मिला शव
x
देवघर के चितरा के ओबी डंप से कोयला चुनकर गुजर-बसर करने वाले दंपत्ति की अज्ञात हत्यारों द्वारा धारदार हथियार से मारकर निर्मम हत्या कर दी गयी है

देवघर के चितरा के ओबी डंप से कोयला चुनकर गुजर-बसर करने वाले दंपत्ति की अज्ञात हत्यारों द्वारा धारदार हथियार से मारकर निर्मम हत्या कर दी गयी है। यह जघन्य घटना थाना क्षेत्र के चितरा बस्ती पालोजोरी मुख्य मार्ग पर चितरा कोलियरी के 8 नंबर ओबी डंप के समीप सड़क किनारे हुई है। घटना बुधवार देर रात की बतायी जा रही है। घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को गुरुवार अहले सुबह मिली। उसके बाद पुलिस घटनास्थल पहुंची।

वहां पुलिस ने देखा कि एक महिला व पुरुष खून से लथपथ अवस्था में जमीन पर पड़े हैं। उनकी पहचान ताराबाद गांव के दंपत्ति 33 वर्षीय हीरालाल महतो व 30 वर्षीया बिलासी देवी के रूप में की गई। महिला बिलासी की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं गंभीर रूप से घायल हीरालाल अचेत अवस्था में पड़ा हुआ था। उसके बाद मौके पर मौजूद परिजनों द्वारा घायल हीरालाल को इलाज के लिए धनबाद ले जाया गया। वहां से फिर रेफर करने के बाद रांची रिम्स ले जाया गया।
इलाज के दौरान घायल हीरालाल ने रिम्स में ही दम तोड़ दिया। इधर चितरा पुलिस द्वारा मृतक महिला के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए देवघर भेज दिया गया। वहीं दोपहर में महिला का शव पोस्टमार्टम के बाद घर ताराबाद लाया गया। शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। परिजनों के चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। घटना के संबंध में मृतक हीरालाल की वयोवृद्ध मां शंकरी देवी ने बताया कि उनका पुत्र हीरालाल व पुत्रवधू बिलासी प्रतिदिन की तरह ही बुधवार देर रात्रि चितरा कोलियरी के ओबी डंप गये थे।
हालांकि पीड़ित की मां सटीक समय बताने में असमर्थ रही। कहा कि उनके पुत्र व पुत्रवधू की किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी और ना ही जमीनी विवाद का कोई मामला ही चल रहा है। बावजूद दोनों की हत्या क्यों की गई, इसकी सही से जांच पड़ताल हो। जानकारी के अनुसार मृतक हीरालाल के शव को रांची रिम्स में ही पोस्टमार्टम किया गया है। शव रात्रि करीब 10 बजे तक पहुंचने की संभावना है। उसके बाद परिजनों द्वारा मृतक दंपत्ति का एक साथ ही दाह संस्कार किया जाएगा।
10 वर्षीय शैलेश के सर से उठा मां-बाप का साया
इस हृदय विदारक हत्याकांड में जान गंवाने वाले दंपत्ति के इकलौता 10 वर्षीय बेटा व चौथी कक्षा का छात्र शैलेश कुमार महतो के सर से मां बाप का साया उठ गया। वह पूरी तरह से अनाथ हो गया है। इस घटना के बाद से पीड़ित पुत्र के आंखों से निकलने वाले आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। वहीं अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल हो गया है।
संदिग्ध लोगों से पुलिस कर रही है पूछताछ
इस घटना के बाद चितरा थाना प्रभारी चंदन कुमार पांडेय घटना से संबंधित सभी बिंदुओं पर बारीकी से जांच-पड़ताल कर रहे हैं। इस दौरान कई संदिग्ध लोगों को थाने पर लाकर कड़ाई से पूछताछ की जा रही है। दूसरी ओर सारठ एसडीपीओ धीरेंद्र नारायण बंका ने भी घटना की सूचना के बाद घटनास्थल का जायजा लिया। इस संबंध में थाना प्रभारी चंदन कुमार पांडेय ने कहा कि पीड़ित की ओर से अभी तक लिखित आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलते ही प्राथमिकी दर्ज करायी जाएगी। कहा कि संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के क्रम में कुछ अहम सुराग भी मिला है, बहुत जल्द अज्ञात आरोपियों को चिन्हित कर सलाखों के पीछे भेजने का काम किया जाएगा।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta