झारखंड

चक्रधरपुर : ट्रेनों को रोकने के लिए ग्रामीण करेंगे आंदोलन, 4 सितंबर से करेंगे अनिश्चितकालीन नाकेबंदी

Bhumika Sahu
7 Aug 2022 4:01 PM GMT
चक्रधरपुर : ट्रेनों को रोकने के लिए ग्रामीण करेंगे आंदोलन, 4 सितंबर से करेंगे अनिश्चितकालीन नाकेबंदी
x
4 सितंबर से करेंगे अनिश्चितकालीन नाकेबंदी

CHAKRADHARPUR : दक्षिण पूर्व रेलवे चक्रधरपुर रेल मंडल द्वारा यात्री सुविधा कोरोना काल से पहले की तरह बहाल नहीं करने से नाराज पोड़ाहाट अनुमंडल के ग्रामीणों ने आखिर रेल चक्का जाम करने का निर्णय लिया है. गोइलकेरा और सोनुआ समेत छोटे रेलवे स्टेशनों पर यात्री ट्रेनों के ठहराव की मांग को लेकर आगामी 4 सितंबर से अनिश्चितकालीन रेल चक्का जाम किया जाएगा. रविवार को गोइलकेरा के हाट बाजार मैदान में ग्रामीणों की बैठक में यह निर्णय लिया गया. रेल ठहराव जन आंदोलन के बैनर तले यह आंदोलन किया जाएगा. 4 सितंबर को लोटापहाड़ से पोसैता तक एक साथ कई जगहों पर रेल चक्का जाम होगा. इससे पहले गोइलकेरा और सोनुआ प्रखंडों के करीब 100 गांवों में हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा. इसके बाद 22 अगस्त को 50 हजार लोगों का हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन चक्रधरपुर के मंडल रेल प्रबंधक, दक्षिण पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक और रेलवे बोर्ड के चैयरमैन को सौंपा जाएगा.

डीआरएम को ज्ञापन देने के लिए गोइलकेरा और सोनुआ से 200 बाइक पर सवार होकर ग्रामीण चक्रधरपुर जाएंगे. ज्ञापन के माध्यम से 3 सितंबर तक सोनुआ, गोइलकेरा, लोटपहाड, टुनिया और पोसैता स्टेशनों पर कोरोना से पहले की तरह सभी ट्रेनों का स्टॉपेज देने की मांग की जाएगी. ऐसा नहीं होने पर 4 सितंबर से हावड़ा-मुंबई मुख्य रेल मार्ग को अनिश्चितकालीन के लिए चक्का जाम किया जाएगा. बैठक में आंदोलन की तैयारी के लिए गोइलकेरा के युवाओं को जिम्मेदारी सौंपी गई. मौके पर अमित महतो, जिला परिषद सदस्य ज्योति मेराल, मुखिया दिनेश चंद्र बोयपाई, सुनीता मेराल, रवि कुमार, मोबिन अंसारी, श्याम नारायण गुप्ता, श्रीकांत कुमार, सत्यनारायण घोष, राजकुमार सिन्हा, साकेत कुमार वाजपेयी, बासुदेव लकड़ा, विमल कुमार सिन्हा, अमित सिंह, विद्यासागर चौरसिया, राजेश जायसवाल, सूर्य कुमार प्रधान, आशु बरनवाल, हरेंद्र चौधरी, जगदीश कोड़ाह समेत काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta