झारखंड

सीबीआई ने की सीएम के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से पूछताछ

Sonali
25 Nov 2021 12:31 PM GMT
सीबीआई ने की सीएम के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से पूछताछ
x
रूपा तिर्की केस (Rupa Tirkey case) की गुत्थी को सुलझाने के लिए सीबीआई (CBI) की टीम लगातार एक-एक कड़ी जोड़ रही है. इसी के तहत गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा (CM MLA representative Pankaj Mishra) से सीबीआई की टीम ने सर्किट हाउस में लगभग 3 घंटे तक पूछताछ की.

जनता से रिश्ता। रूपा तिर्की केस (Rupa Tirkey case) की गुत्थी को सुलझाने के लिए सीबीआई (CBI) की टीम लगातार एक-एक कड़ी जोड़ रही है. इसी के तहत गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा (CM MLA representative Pankaj Mishra) से सीबीआई की टीम ने सर्किट हाउस में लगभग 3 घंटे तक पूछताछ की.रूपा तिर्की की मौत के बाद परिजन की ओर से मुख्यमंत्री प्रतिनिधि पंकज मिश्रा (Pankaj Mishra) पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. साथ ही लगातार जांच कर कार्रवाई की मांग कर रहे थे. सीबीआई की टीम आज शहर के नए सर्किट हाउस में मिश्रा को बुलाकर केस से जुड़ी कई अहम सवालों पर जवाब तलब किया और कलमबंद बयानों को नोट किया.

लोगों की नजरों से बचते हुए आए पंकज मिश्रा
सीबीआई की टीम की ओर से सुबह के 11:00 बजे सर्किट हाउस पूछताछ के लिए बुलायी थी. लेकिन पंकज मिश्रा पत्रकार और लोगों की नजरों से बचते हुए सुबह के 9:00 बजे किसी अज्ञात वाहन से सर्किट हाउस पहुंचे. अपने बॉडीगार्ड और निजी वाहन भी घर पर ही छोड़ दिया. पूछताछ खत्म होने के बाद अपनी निजी गाड़ी और बॉडीगार्ड को बुलाकर घर की तरफ रवाना हुए.
मुख्यमंत्री के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा ने बताया कि सीबीआई की टीम रूपा तिर्की केस से जुड़ी कई सवालों के बारे में जाने के लिए बुलायी थी. उन्होंने पत्रकारों को बताया कि वो सीबीआई को सहयोग कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे. तथ्यों से जुड़े ही सवाल किया गया, जिसका जवाब भी उनकी ओर से दिया गया. पंकज मिश्रा ने ये भी बताया कि सीबीआई टीम को चलते-चलते उन्होंने कहा कि फिर कभी मेरी जरूरत हो तो बेशक बुला सकते हैं. पत्रकार को पंकज मिश्रा ने बताया कि रूपा तिर्की केस से मेरा दूर-दूर तक कोई नाता नहीं है. विपक्षी पार्टी इसमें मुझे फंसाने की साजिश कर रही है, वो भी चाह रहे हैं कि रूपा तिर्की को न्याय मिले.
इस केस की आईओ इंस्पेक्टर जीके अंशु ने बताया कि फील्ड का काम 50% पूरा हो चुका है, लगभग सभी लोगों से पूछताछ हो चुकी है. अब सभी के बयान की क्रॉस चेकिंग किया जाएगी. क्रॉस चेकिंग में अगर कुछ सस्पेक्टेड सवाल मिलता है तो फिर से वैसे लोगों को बुलाकर पूछताछ की जाएगी. उन्होंने कहा कि अभी फॉरेंसिक जांच की रिपोर्ट आनी बाकी है. साथ ही साथ पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर एम्स के डॉक्टर का रिपोर्ट आना है. इसके बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकता है कि ये हत्या है या आत्महत्या है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it