जम्मू और कश्मीर

श्रीनगर से 15 अधिकारियों, कर्मियों को जम्मू आने के निर्देश

Kunti
12 Nov 2021 12:17 PM GMT
श्रीनगर से 15 अधिकारियों, कर्मियों को जम्मू आने के निर्देश
x
जम्मू कश्मीर में दरबार मूव की प्रक्रिया बंद होने के बाद जम्मू सचिवालय में कामकाज की बेहतर व्यवस्था बनाए रखने के लिए श्रीनगर सचिवालय से कर्मचारियों व अधिकारियों को बुलाने का सिलसिला जारी है।

जम्मू, जम्मू कश्मीर में दरबार मूव की प्रक्रिया बंद होने के बाद जम्मू सचिवालय में कामकाज की बेहतर व्यवस्था बनाए रखने के लिए श्रीनगर सचिवालय से कर्मचारियों व अधिकारियों को बुलाने का सिलसिला जारी है। सरकार ने तीसरा आदेश जारी कर 15 अधिकारियों व कर्मचारियों को श्रीनगर सचिवालय से जम्मू आने के लिए कहा है।

यह फैसला दोनों सचिवालय में कामकाज की बेहतर व्यवस्था बनाने के लिए किया गया है। इससे पहले सरकार ने गत माह दो आदेश जारी कर श्रीनगर सचिवालय से 286 अधिकारियों व कर्मचारियों को जम्मू सचिवालय से काम करने के लिए बुला लिया था। गर्मियों के महीनों में श्रीनगर सचिवालय से काम करने वाले उपराज्यपाल, मुख्यसचिव, प्रशासनिक सचिव अब जम्मू सचिवालय से काम कर रहे हैं। अब योजना एवं निगरानी विभाग के उपसचिव सोनू परगाल ने 15 अधिकारियों, कर्मचारियों की सूची जारी कर दी जो गर्मियों में श्रीनगर व सर्दियों के महीनों में जम्मू सचिवालय से काम करेंगे। ऐसे में इन अधिकारियों को अब श्रीनगर से काम करने के लिए जम्मू सचिवालय आना होगा।
सूची में शामिल अधिकारियों में संयुक्त निदेशक मुख्तार अहमद बजाज, उपसचिव गुलाम रसूल मीर, सेक्शन अधिकारी फेयाज अहमद डार, स्टेटिसिकल अधिकारी जुहूर अहमद नाजर, अब्दुल सलाम बट, सीनियर स्टेनोग्राफर नुजहत अमीन बेग, स्टेटिसिकल असिस्टेंट तारिक अमीन, रूखसाना माजिद, सीनियर असिस्टेंट इरफत जान, ईडीपी सुपरवाइजर खालिदा अख्तर, जूनियर असिस्टेंट रौफ अहमद, तारिक रशीद, अर्दली अल्ताफ हुसैन, मुद्दसिरा बानो व तारिक अहमद शामिल हैं।
इससे पहले गत माह सरकार ने दो सूचियां जारी कर कश्मीर सचिवालय के 300 के करीब अधिकारियों व कर्मचारियों को जम्मू सचिवालय से काम करने के लिए बुलाया था। सरकार ने श्रीनगर सचिवालय के 38 विभागों में से पहले 186 अधिकारियों, कर्मचारियों व उसके बाद 98 को जम्मू से काम करने के लिए कहा था। अब पंद्रह अधिकारियों, कर्मचारियों को जम्मू सचिवालय से काम करने के लिए बुलाया गया है। इन अधिकारियों व कर्मचारियों को ठहराने के लिए जम्मू में इस्टेट विभाग की ओर से व्यवस्था बनाई जा गई है।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it