जम्मू और कश्मीर

अमरनाथ यात्रियों के लिए फीडबैक सेवा शुरू, पांचवें दिन 19 हजार श्रद्धालु पहुंचे पवित्र गुफा

Renuka Sahu
5 July 2022 1:39 AM GMT
Feedback service started for Amarnath pilgrims, on the fifth day 19 thousand pilgrims reached the holy cave
x

फाइल फोटो 

अमरनाथ यात्रियों के लिए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड की ओर से यात्री फीडबैक सेवा शुरू की गई है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। अमरनाथ यात्रियों के लिए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड की ओर से यात्री फीडबैक सेवा (पीएफएस) शुरू की गई है। इसमें एसएमएस के माध्यम से फीडबैक लेकर यात्रा शिविरों में आवास, स्वच्छता और भोजन की गुणवत्ता पर यात्रियों की टिप्पणी और सुझाव लिए जा रहे हैं। इस बीच सोमवार को पांचवें दिन करीब 19 हजार भक्तों ने बाबा बर्फानी के दर्शन किए। आधार शिविर भगवती नगर जम्मू से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच छठे जत्थे में 7276 यात्री रवाना हुए। यात्रा को लेकर शिवभक्तों में जबरदस्त उत्साह है।

श्रद्धालुओं की संख्या में लगातार हो रहा इजाफा
यात्रा के आगे बढ़ने के साथ श्रद्धालुओं की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। आधार शिविर भगवती नगर जम्मू से बालटाल रूट के लिए 2187 पुरुष, 658 महिलाओं, 8 बच्चों और 42 साधुओं के साथ 2895 यात्री 150 हल्के और भारी वाहनों में कश्मीर के लिए रवाना हुए। इसी तरह पहलगाम के लिए 182 हल्के और भारी वाहनों में 4381 श्रद्धालु रवाना हुए, इसमें 3679 पुरुष, 548 महिलाएं, 14 बच्चे, 131 साधु और 9 साध्वी शामिल रहीं।
तीर्थ यात्रियों की आमद बढ़ने से शहर में चहल-पहल
जम्मू में देशभर से प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। तीर्थ यात्रियों की आमद बढ़ने से शहर में चहल-पहल बढ़ी है। यात्री शहर के प्रमुख बाजारों का रुख कर रहे हैं। श्री रघुनाथ बाजार में रौनक है। वहीं, पुरानी मंडी स्थित श्री राम मंदिर में साधु संत पूरे माहौल को शिवमय बना रहे हैं। दिनभर भजन कीर्तन से चारों ओर बम बम भोले के जयघोष गूंज रहे हैं। आधार शिविर भगवती नगर में भी यही नजारा है। आध्यात्मिक प्रस्तुतियों से पूरा माहौल भक्तिमय बना हुआ है।
यात्री बोले-हमें कोई डर नहीं, जवान हमारी सुरक्षा में तैनात है
अमरनाथ यात्रा को लेकर यात्रियों में उत्साह का माहौल है। आधार शिविर भगवती नगर भोले के रंग में रंगा है। भोले के भजन कीर्तन से माहौल भक्तीमय बना हुआ है। बाहरी राज्यों से प्रतिदिन 100 से अधिक वाहन जम्मू पहुंच रहे हैं, जिनमें हजारों की संख्या में अमरनाथ यात्री हैं। इन यात्रियों में अधिकांश ने ऑनलाइन पंजीकरण करवा रखा है। गुजरात से आए अमरनाथ यात्री गोविंद ने कहा कि पहली बार यात्रा पर आया हूं। हमने अप्रैल में ऑनलाइन पंजीकरण किया था। दो साल से कोविड था और यात्रा भी बंद थी। ऐसे में इस बार यात्रा पर आने की योजना बनाई।
गुजरात के एक अन्य यात्री विनोद ने कहा कि भगवान के दर्शन करने की लालसा है। पहली बार यात्रा पर आया हूं। कश्मीर में जाने से कोई डर नहीं है। हमारी सुरक्षा में तैनात जवानों पर हमें भरोसा है।मध्यप्रदेश से आए यात्री संतलाल दूसरी बार यात्रा पर आए हैं। उन्होंने 2019 में भी यात्रा की थी। इस बार यात्रियों की सुविधाओं में काफी वृद्धि हुई है। आधार शिविर में यात्रियों के रहने की व्यवस्था काफी अच्छी की है। जम्मू में गर्मी ज्यादा है, लेकिन प्रशासन ने प्रबंध अच्छे किए हैं। मध्यप्रदेश के ही यात्री विक्रम ने कहा कि परिवार के साथ यात्रा पर आए हैं। भोलेनाथ के दर्शन करने की इच्छा काफी समय से थी। उन्होंने कहा कि हमने ऑनलाइन पंजीकरण करवाया था।
पंजीकरण के लिए लग रही लंबी-लंबी कतारें
अमरनाथ यात्रा के लिए तत्काल पंजीकरण के लिए लंबी-लंबी कतारें लग रही हैं। रेलवे स्टेशन स्थित वैष्णवी धाम, पुरानी मंडी स्थित राम मंदिर और महाजन सभा में यात्रियों का तत्काल पंजीकरण हो रहा है। पंजीकरण के लिए सुबह से लाइनें लग जाती थीं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta