हिमाचल प्रदेश

2022 के विधानसभा चुनाव में जन्म भूमि को अब कर्म भूमि बनाने की राठौर समर्थकों ने की कवायद शुरू

Gulabi
26 Nov 2021 9:46 AM GMT
2022 के विधानसभा चुनाव में जन्म भूमि को अब कर्म भूमि बनाने की राठौर समर्थकों ने की कवायद शुरू
x
2022 के विधानसभा चुनाव
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ठियोग-कुमारसेन विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में जन्म भूमि को अब कर्म भूमि बनाने की राठौर समर्थकों ने कवायद शुरू की है। ठियोग-कुमारसेन ब्लॉक कांग्रेस भी राठौर को चुनाव मैदान में उतरने की वकालत कर चुकी है। ऐसे में बड़ी संभावना बनने जा रही है कि वर्ष 2022 के चुनाव में राठौर भी पहली बार अपनी किस्मत आजमाएंगे।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता विद्या स्टोक्स ठियोग-कुमारसेन से चुनाव लड़ती रही हैं। स्टोक्स के सक्रिय राजनीति में होने के चलते कुलदीप राठौर को अभी तक चुनाव मैदान में उतरने का मौका नहीं मिला है। वर्ष 2017 के चुनावों के दौरान भी स्टोक्स की दावेदारी ही टिकट के लिए मजबूत थी लेकिन ऐन मौके पर युवा नेता दीपक राठौर ठियोग से कांग्रेस का टिकट लेने में कामयाब हो गए थे। राठौर को इसके बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की बड़ी जिम्मेदारी मिलने के बाद कांग्रेस में कई समीकरण बदले हैं।
उपचुनावों में मंडी संसदीय सीट सहित फतेहपुर, जुब्बल कोटखाई और अर्की विधानसभा सीट पर हुई कांग्रेस प्रत्याशियों की जीत से प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते कुलदीप सिंह राठौर का सियासी कद बढ़ा है। इससे पहले सोलन और पालमपुर नगर निगम के चुनाव में कांग्रेस ने बाजी मारी है। ऐसे में राठौर समर्थकों ने अब ठियोग से चुनाव लड़ने की तैयारी शुरू कर दी है।
बीते दिनों ठियोग-कुमारसेन ब्लॉक कांग्रेस ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन शिमला आकर राठौर का गर्मजोशी से स्वागत किया था। इस दौरान ब्लॉक के अधिकांश पदाधिकारियों ने राठौर से चुनाव मैदान में उतरने की मांग की थी। राठौर का कहना है कि अगर हाईकमान के निर्देश हुए तो जरूर ठियोग-कुमारसेन विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडूंगा।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it