हिमाचल प्रदेश

हिमाचल की बेटी ने तीन साल लगातार गोल्ड मेडल हासिल कर हिमाचल प्रदेश का नाम किया रोशन

Admin Delhi 1
22 Sep 2022 12:53 PM GMT
हिमाचल की बेटी ने तीन साल लगातार गोल्ड मेडल हासिल कर हिमाचल प्रदेश का नाम  किया रोशन
x

सोलन स्पेशल न्यूज़: शहर की बेटी "शेरॉन प्रियदर्शनी कुमार" ने श्री राम चंद्रा इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजूकेशन (Shri Ram Chandra Institute of Higher Education) चेन्नई में एमबीबीएस (MBBS) में तीन साल लगातार गोल्ड मेडल हासिल कर हिमाचल प्रदेश का नाम रोशन किया है। शेरॉन की ये उपलब्धि अन्य छात्रों के लिए मिसाल है। शेरॉन प्रियदर्शनी कुमार एमबीबीएस के बाद अब सिविल सर्विस (UPSC) की परीक्षा उत्तीर्ण करना चाहती है, इसके लिए वो मेहनत कर रही है। होनहार बेटी विशेषकर हैल्थ और एजुकेशन सेक्टर (Health and Education Sector) में बेहतर कार्य कर मानवता की सेवा करना चाहती है। शेरॉन प्रियदर्शनी कुमार के पिता एस. प्रवीण कुमार भारत सरकार के एग्रीकल्चर एंड फार्मर वेलफेयर विभाग (Department of Agriculture and Farmer Welfare) में संयुक्त सचिव पद पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं, जबकि माता प्रीती कुमार शहर में सोलन पब्लिक स्कूल की एमडी हैं। नातिन की इस उपलब्धि पर शेरॉन के नाना डॉ. एमएम कौशल और नानी राज कौशल भी बेहद खुश हैं।

छोटी बहन भी कम नहीं: शेरॉन की छोटी बहन शिर्ले प्रियंजना कुमार भी शिक्षा में बड़ी बहन की तरह ही मेधावी है। वह एलएलबी (ऑनर्स) कर रही है। स्कूली शिक्षा के दौरान वह स्कॉलरशिप (Scholarship) पर दो बार ऑक्सफोर्ड (oxford) जा चुकी है। अमेरिकन कानून के अध्ययन के लिए वो मौजूदा समय में यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास एट ऑस्टिन के लॉ ऑफ स्कूल (University of Texas at Austin's School of Law) में है।

जन्म व शिक्षा: शेरॉन प्रियदर्शनी कुमार का जन्म सोलन में 14 अगस्त 2000 को हुआ। शेरॉन की प्रारंभिक शिक्षा कारमल कॉन्वेंट स्कूल चंडीगढ़ में हुई। पहली कक्षा के बाद की शिक्षा हैदराबाद के सेंट एंड्रयूज स्कूल (St. Andrews School) में हुई। यहां मैट्रिक की परीक्षा 10 सीजीपीए यानी परफेक्ट टेन अंकों के साथ पास की। इसके बाद हैदराबाद के ही नामी स्कूल पी. ओवले रेड्डी स्कूल में मेडिकल विषयों के साथ मैथ लेकर कंप्लीट की। जमा दो परीक्षा शेरॉन ने 96 फीसदी अंकों के साथ उत्तीर्ण की। वर्ष-2018 में पहली ही बार में शेरॉन ने नीट परीक्षा (NEET Exam) क्लीयर की। उनका चयन हिमाचल प्रदेश के आईजीएमसी (IGMC) के लिए हुआ था, लेकिन उन्होंने चेन्नई को मेडिकल एजूकेशन के लिए चुना।

पहले वर्ष से स्कॉलरशिप, टाटा ने दिए 9 लाख

शेरॉन प्रियदर्शनी कुमार ने चेन्नई के श्रीरामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजूकेशन में मेडिकल शिक्षा के लिए प्रवेश लिया। पहले ही वर्ष में शेरॉन ने गोल्ड मेडल (Gold medal) हासिल किया। मेडिकल कॉलेज में सबसे अधिक अंक हासिल करने के लिए उसे कॉलेज प्रबंधन की ओर 50 हजार रुपए का नकद पुरस्कार हासिल किया। इसके अलावा शेरॉन ने टाटा एजूकेशन ट्रस्ट स्कॉलरशिप फॉर एक्सीलेंस इन स्टडी ऑफ मेडिसन वर्ष-2022 के लिए 9 लाख रुपए की स्कॉलरशिप प्रदान की गई।

खेलों और संगीत में रूचि: शिक्षा के साथ-साथ शेरॉन को खेलों और संगीत में भी गहरी रुचि है। वह शिक्षा के साथ-साथ क्रिकेट, बैडमिंटन और टेनिस खेलती रही है। शेरॉन ने बताया कि विराट कोहली के अलावा साइना नेहवाल, पीवी सिंधु, नडाल और सेरेना विलियम्स के पसंदीदा खिलाड़ी है। शेरॉन को पियानो बजाने और गायन का भी शौक है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta