हिमाचल प्रदेश

आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22: रिजर्व बैंक की नजर में केवल हिमाचल का शिमला ही एकमात्र शहर

Kunti Dhruw
13 March 2022 8:55 AM GMT
आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22: रिजर्व बैंक की नजर में केवल हिमाचल का शिमला ही एकमात्र शहर
x
बेशक हिमाचल प्रदेश में 60 से ज्यादा नगर निकाय हों, पांच नगर निगम भी बन गए हों.

हिमांचल: बेशक हिमाचल प्रदेश में 60 से ज्यादा नगर निकाय हों, पांच नगर निगम भी बन गए हों, अलग से शहरी विकास मंत्री और विभाग भी हो, लेकिन भारतीय रिजर्व बैंक की नजर में केवल शिमला ही राज्य का एकमात्र शहर है। यह बात प्रदेश सरकार के आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22 में सामने आई है। आर्थिक सर्वेक्षण की यह रिपोर्ट मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने प्रदेश में चल रहे विधानसभा बजट सत्र के दौरान सामने लाई है।

इस सर्वेक्षण के अनुसार आरबीआई ने केवल शिमला को ही शहरी क्षेत्र में वर्गीकृत किया है। राज्य में कुल 2,244 बैंक शाखाओं का नेटवर्क है। 76 प्रतिशत से अधिक यानी 1715 शाखाएं ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर रही हैं। इसके अलावा 414 अर्द्ध शहरी क्षेत्रों और 115 शहरी क्षेत्र शिमला में स्थित हैं।

तय राष्ट्रीय मानकों से ज्यादा दिए कमजोर वर्गों और महिलाओं को कर्ज
सर्वेक्षण के अनुसार हिमाचल प्रदेश में कमजोर वर्गों और महिलाओं को तय राष्ट्रीय मानकों से ज्यादा कर्ज दिए गए हैं। सितंबर 2021 तक कमजोर वर्गों को 19.47 और महिलाओं को 17.75 फीसदी कर्ज दिए गए। राष्ट्रीय मानक के अनुसार कमजोर वर्ग के लिए 10 और महिलाओं के लिए 5 फीसदी की अग्रिम राशि निर्धारित है। कमजोर वर्गों के लिए राज्य में सभी प्राथमिक क्षेत्रों में ऋण का प्रवाह बढ़ाया गया है। इसमें संस्थागत एवं बैंक वित्त पर अलग से स्थिति स्पष्ट की है। बैंकों ने प्राथमिक क्षेत्र की गतिविधियों के लिए 59.86 प्रतिशत ऋण दिया है।

तीन बैंकों को दी लीड बैंक की जिम्मेवारी
राज्य में तीन बैंकों को लीड बैंक की जिम्मेवारी दी गई है। इनमें पंजाब नेशनल बैंक को जिला हमीरपुर, कांगड़ा, किन्नौर, कुल्लू, मंडी, ऊना, यूको बैंक को जिला बिलासपुर, शिमला, सोलन, सिरमौर और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को जिला चंबा और लाहौल-स्पीति का जिम्मा दिया है। यूको बैंक राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति का संयोजक बैंक है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta